class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोटर ट्रैनिंग स्कूल की गाड़ियों में फिटनेस गायब मिला

लखनऊ। निज संवाददाता उम्र पूरी कर चुकी मोटर ट्रैनिंग स्कूल की गाड़ियों से ड्राइविंग की ट्रैनिंग दी जा रही है। और इन गाड़ियों की फिटनेस भी नहीं है। सोमवार को आरटीओ कार्यालय के फिटनेस मैदान में जब गाड़ियों की जांच शुरू हुई तो कई गाड़ियों में तमाम खामियां मिली। किसी गाड़ी में फिटनेस खत्म थे तो किसी का परमिट नहीं था। यहीं नहीं मोटर ट्रैनिंग स्कूल की गाड़ियों के टैक्स बकाए में दौड़ रहे थे तो कई गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन खत्म थे। इन सभी गाड़ी मालिकों को को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। एआरटीओ प्रशासन राघवेंद्र सिंह ने बताया कि फिटनेस मैदान पर 31 मोटर ट्रैनिंग स्कूल की गाड़ियां आई थी। इनमें से छह गाड़ियों में खामियां मिली है। इन गाड़ी मालिकों तत्काल खामियां दूर करने की चेतावनी दी गई है। यातायात पथ निरीक्षक सर्वेश चर्तुवेदी की निगरानी में सभी गाड़ियों की जांच करते हुए उनके कागजात चेक किए गए। इसके बाद गाड़ी मालिकों को एक सप्ताह के अंदर सभी कागजात दुरूस्त करने के बाद ही ड्राइविंग प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश दिए गए। फीस तय करने लिए मुख्यालय भेजा पत्र मोटर ट्रैनिंग स्कूल में ड्राइविंग सीखने के लिए परिवहन विभाग ने लाइसेंस तो दे दिया है मगर फीस तय नहीं किया है। ऐसे में जो लोग ड्राइविंग सीखने जाते है मोटर ट्रैनिंग स्कूल वाले मनमाने पैसा वसूल करते है। इस मामले को संज्ञान में लेते हुए ट्रांसपोर्टनगर के यातायात पथ निरीक्षक सर्वेश चर्तुवेदी ने परिवहन विभाग के आयुक्त को पत्र भेजकर फीस तय करने की बात कहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Motor training school trains fitness found missing
हिन्दू-मुस्लिम एकता की शपथ दिलाएगा घोसी महासभासीएम योगी ने वेंकैया नायडू को दी बधाई