class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लविवि सेंट्रल मेस

खाने की कमी, घटिया क्वालिटी पर मेस संचालक को नोटिस -लविवि ने संचालक से पूछा अव्यवस्थाओं का कारण लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता लखनऊ विवि में लगभग 4 करोड़ रुपए खर्च करके तैयार की गई सेंट्रल मेस भी यहां छात्रों को अच्छा और पर्याप्त खाना दे पा रही है। लगातार विवाद हो रहे हैं और नौबत यह आ गई कि छात्र बाउंसरों के साए में यहां बैठकर खाना खा रहे हैं। विवि जब खुद इन चीजों को रोक पाने में असमर्थ हो गया तो गेंद मेस संचालक के पाले में डाल दी और अब संचालक बताएगा कि मेस दुरुस्त क्यों नहीं हो रही। बीते बुधवार की रात खाना कम पड़ने और क्वालिटी खराब होने पर छात्रों की यहां लगाए गए बाउंसरों व संचालक से जमकर नोंक-झोंक हुई थीं, जिसके बाद गुरुवार को मेस संचालक को नोटिस दे दिया गया जिसका जवाब उसे तीन दिनों में देना है। ये चार जवाब मांगे गए हैं- -खाने की क्वालिटी सुधर क्यों नहीं रही और बुधवार को छात्रों को जली हुई तहरी क्यों परोसी गई। -जब यह मालूम है कि कितने छात्र खाना खाने आएंगे तो रोज खाना कम क्यों पड़ रह है। बुधवार की रात भी तीन बार तहरी बनानी पड़ी थी। -मेस का सात दिनों क मेन्यू पहले से तय है फिर उसी के अनुसार खाना क्यों नहीं बन रहा। -जब इतनी घटनाएं हो रही हैं तो मेस संचालक इनकी लिखित में शिकातय क्यों नहीं कर रहा। बायोमैट्रिक मशीन तोड़े जाने की घटना पर यहां अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर कराई गई थी लेकिन सीसीटीवी कैमरा और उसका डीवीबार चोरी होने के मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं हो सकी। विवि का कहना है कि जब तक मेस संचालक शिकायत नहीं कराएगा, इस मामले में एफआईआर नहीं हो पाएगी। बॉक्स एनडी हॉस्टल में रहेगी पीएसी लविवि में एक तरफ छात्रों को देने के लिए कमरे नहीं हैं और दूसरी ओर यहां पीएसी टिका दी गई है। हालांकि विवि का कहना है कि उन्हें कमरे नहीं दिए गए हैं और पीएसी के जवान अपनी छावनी बनाकर रहेंगे। उधर लविवि प्रवक्ता प्रो. एनके पांडेय की मानें तो यह रूटीन का काम है और जैसे पहले विवि में पीएसी रहती थी, उसी तरह यहां भी रहेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lu central mess
राम रहीम के फेर में हरियाणा बस समझौता लटकानगर निगमकर्मियों ने आरपार लड़ाई की दी चेतावनी