class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजादी उत्सव में गूंजे देशभक्ति के तराने

देश को मिली आजादी का जश्न हर देशवासी के चेहरे पर दिखता है। आजादी से पहले ही आजादी उत्सव होने लगते हैं, ऐसा ही रविवार को भी हुआ, जहां सृजन फाउण्डेशन के कलाकारों ने एक से बढ़कर एक गीतों की प्रस्तुति से न सिर्फ अपने देश के वीरों को नमन किया बल्कि को देश को मिली आजादी का जश्न भी मनाया। आजादी के 70 साल पूरे होने पर गीत संगीत का कार्यक्रम संगीत नाटक अकादमी के वाल्मीकि प्रेक्षागृह में किया गया। कार्यक्रम में सबसे पहले गायक किशोर व उनके साथियों ने �भाईचारे और इंसानियत का पैगाम देते हुए इंसान का इंसान से हो �भाईचारा गाना पेश किया। इसके बाद गोविंद यादव ने शिव स्तुति नागेंद्र हराय पर अपनी शानदार प्रस्तुति दी। वहीं सौरभ ने सरफरोशी की शमा दिल में जगा लो यारो गाने को पेशकर खूब तालियां बटोरी। वहीं अवव्या सक्सेना ने दे दी हमें आजादी गाने को गाया। इसके बाद स्वरा त्रिपाठी ने बहन चली दुल्हन चली गाने पर डांस किया। वहीं गिन्नी सहगल ने मेरा रंग दे बसंती चोला, आदिति ने मां तुझे सलाम, रुबल जैन ने वंदे मातरम गाने पर डांस कर सबका दिल जीत लिया। इसके अलावा कई कलाकारों ने लोकगीतों की भी प्रस्तुति दी
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lko
बच्चों की मौत पर मंत्री- अधिकारी कर रहे राजनीति : अखिलेशमाताओं ने रखा हल षष्ठी व्रत