class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुराने लखनऊ के अवैध निर्माणों को चिन्हित करने के लिए बनी कमेटी

---आठ इंजीनियरों की कमेटी बनायी गयी, नए हो रहे अवैध निर्माणों व पिछली सरकार में हो चुके अवैध निर्माणों को चिन्हित करेगी कमेटी लखनऊ। प्रमुख संवाददाता पुराने लखनऊ के हुसैनाबाग व चौक क्षेत्र में हो रहे अवैध निर्माणों को लेकर शासन काफी गंभीर है। शासन के निर्देश पर एलडीए ने इस क्षेत्र के सभी अवैध निर्माणों को चिह्नित करने व उसके खिलाफ कार्रवाई करने का निर्णय लिया है। यहां वर्तमान में हो रहे अवैध निर्माणों तथा पिछले कुछ वर्षों के भीतर हुए अवैध निर्माणों को चिह्नित करने के लिए एलडीए ने सोमवार को आठ इंजीनियरों की एक कमेटी बना दी है। कमेटी को 15 दिनों के भीतर पुराने लखनऊ के अवैध निर्माणों को चिह्नित कर उपाध्यक्ष को रिपोर्ट देनी है। एलडीए ने पुराने लखनऊ के अवैध निर्माणों को चिह्नित करने का आदेश सोमवार को जारी किया। उपाध्यक्ष प्रभु एन सिंह के निर्देश पर सचिव ने कमेटी बना दी है। अधिशासी अभियन्ता पीके सिंह की अध्यक्षता में बनी इस कमेटी में दो सहायक अभियन्ता व पांच अवर अभियन्ता शामिल हैं। टीम में पीके सिंह के अलावा सहायक अभियन्ता राज कुमार वर्मा, जीसी शर्मा, अवर अभियन्ता देवेन्द्र नाथ यादव, जितेन्द्र नाथ दुबे, प्रदीप कुमार पाण्डेय, विनोद कुमार सिंह तथा चन्द्रशेखर प्रसाद को शामिल किया गया है। कमेटी को तत्काल सर्वे का काम शुरू करने का निर्देश दिया गया है। कमेटी को रिहायशी इलाकों में वर्तमान में हो रहे अवैध निर्माणों तथा पूर्व में हो चुके निर्माणों को चिह्नित कर रिपोर्ट देनी है। एकल आवासीय मकानों का नक्शा पास कराकर बहुमंजिले काम्प्लेक्स, शापिंग माल, अपार्टमेंट बनाने वालों को भी चिह्नित करने का निर्देश दिया गया है। 15 दिनों के भीतर रिपोर्ट देने को कहा गया है। रिपोर्ट मिलने के बाद एलडीए इन अवैध निर्माणों को ध्वस्त व सील कराने का आदेश करेगा। ----------------------------

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lda
24 लाख परिवारों को मिलेगा निशुल्क आशियाना-महेन्द्र सिंहसरप्लस अध्यापक समायोजन को करेंगे आवेदन