class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रजनीश भैया के ध्यानार्थ::::मुंह के ट्यूमर का ऑपरेशन कर महिला को दी नई जिंदगी

केजीएमयू के डॉक्टरों ने बाराबंकी निवासी महिला के मुंह के ट्यूमर का ऑपरेशन कर उसे नई जिंदगी दी है। ट्यूमर का आकार काफी बड़ा होने से महिला का खाना-पीना सब मुश्किल हो गया था। ऑपरेशन के बाद अब वह पूरी तरह से स्वस्थ है। केजीएमयू दंत संकाय के मैक्सिलो फिएशियल सर्जरी विभाग के डॉ. हरिराम ने बताया कि बाराबंकी निवासी सुमित्रा (37) कुछ दिन पहले केजीएमयू आई थी। सुमित्रा के दाहिनी गाल में 10 इंच लम्बा व 8 इंच चौड़ा ट्यूमर था। वह चार साल से गाल पर ट्यूमर की परेशानी झेल रही हैं। ट्यूमर की वजह से महिला को खासी दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा था। खाने पीने में मरीज को परेशानी हो रही थी। भीषण दर्द भी हो रहा था। ट्यूमर की आकार लगातार बढ़ता जा रहा था। चेहरे पर ट्यूमर से कहीं आना-जाना भी बंद हो गया था। दो घंटे की सर्जरी कर दिलाई राहत डॉ. हरिराम ने बताया कि दो घंटे की सर्जरी कर सुमित्रा के गाल से ट्यूमर निकाला गया। ट्यूमर हटाने के बाद जबड़े पर प्लेट लगाई गई है। जिससे कुछ खाने में दिक्कत न हो। उन्होंने बताया कि ऑपरेशन के बाद महिला की सेहत में सुधार है। ट्यूमर की बायोप्सी जांच कराई गई है। रिपोर्ट सामान्य आई है। नि:शुल्क हुआ ऑपरेशन सुमित्रा के घर की माली हालत ठीक नहीं है। उसके पति शारीरिक रूप से अक्षम हैं। जीविका का कोई साधन नहीं है। जिसको देखते हुए मैक्सिलो फिएशियल सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डॉ. शादाब की मदद से सुमित्रा का ऑपरेशन नि:शुल्क किया गया। ऑपरेशन शुल्क भी नहीं लिया गया। जांचें डॉक्टरों ने अपने पास से कराई। ये हैं टीम के हीरो ऑपरेशन टीम में डॉ. शादाब मोहम्मद, डॉ. हरिराम, डॉ. विभा सिंह, डॉ. संजय, डॉ. तस्वीर, डॉ. रुबिन, डॉ. जगदीश, डॉ. रूप, डॉ. प्रदीप, डॉ. रेंगा शामिल रहे।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:kgmu
गरीबों को दो लाख में दो कमरे का मकानबाबूगंज में आज गुल रहेगी बिजली