class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

...सोचती हूं अब घर बसाना चाहिए

लखनऊ। निज संवाददाता राम कुमार त्रिपाठी निर्द्वन्द की स्मृति में दिव्य सांस्कृतिक,शैक्षिक एवं सामाजिक संस्था की ओर से सोमवार को रायउमानाथ बली प्रेक्षाग्रह में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता कवि और आईपीएस अखिलेश कुमार निगम ‘अखिल ने की तो संचालन विजित सिंह द्वारा किया गया। जिन्दगी में आबोदाना चाहिए,हर किसी को आशियाना चाहिए। मै तो तन्हा रह गयी इस भीड़ में,सोचती हूं अब घर बसाना चाहिए ,रचना को जब कवियत्री सरस्वती सिंह ने गुनगुना तो लोगों ने तालियां बजा कर उनका अभिनन्दन किया। इनके साथ-साथ, सम्मेलन में ,अनवर बेग,अभय सुमन ‘दर्पण,सुनील त्रिवेदी ,श्रीपाल ‘श्री ,अमरेश आर्यन, नरेन्द्र पंजवानी ‘माहिर अंकुर सक्सेना ‘सुअंश,शुभम् पाण्डेय ‘चमत्कारी,विवेक मिश्रा ‘विष्णु,रजनीकांत सोनकर ‘लंकेशललित कुमार दीपक व अन्य लोगो ने काव्य पाठ किया।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:kavi sammelan