class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भगवान की भक्ति से होगा दुखो का अंत

लखनऊ । नन्दना बक्शी का तालब स्थित इक्यावन शक्तिपठ मन्दिर में चल रही श्रीमद् भागवत कथा में रविवार को आचार्य अंजनी ने कहा कि मनुष्य को यदि दुखों से छुटकारा पाना है तो भगवान की भक्ति करनी होगी। क्योंकि भगवान के सिवा और कोई है ही नही जो दुखों से छुटकारा दिला सके। समस्त दुखों से मुक्त करने की सामर्थ भगवान में है। उन्होंने कहा कि भगवान की प्राप्ति बिना भक्ति के प्राप्त नही हो सकती। इसलिए जिसको भगवान की प्राप्ति करना हो वह सर्वप्रथम भगवान की भक्ति का प्रयास करना चाहिये। भक्ति की प्राप्ति से ही भगवान की प्राप्ति हो जाती है और उसी के साथ दुखों का अंत भी होने लगता है। इस अवसा पर रघुराज दीक्षित, प्रो0 कृष्ण कुमार मिश्रा, अभिमन्यू, सत्य नारायण अग्रवाल आदि लोग थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:katha
लविवि बीएलएड परीक्षासुरों के जादू से बाल कलाकारों ने बिखेरा जलवा