class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संशोधित: सिंचाई विभाग में ई-टेण्डरिंग प्रणाली लागू

प्रमुख संवाददाता / राज्य मुख्यालयप्रदेश के सिंचाई व जल संसाधन विभाग में ई-टेण्डरिंग व्यवस्था लागू कर दी गई है। सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह के निर्देश पर टेंडर (निविदा) प्रक्रिया को तेज और पारदर्शी बनाने के लिए यह कदम उठाया गया है। सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव सुरेश चन्द्रा ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया से असामाजिक तत्वों पर भी लगाम लगेगी। ई-टेण्डरिंग के समय टेंडर दाताओं द्वारा निर्धारित प्रपत्रों के अतिरिक्त मूल अभिलेखों की स्कैन कापी व प्रतिभूति पत्र-विभाग के नाम बंधक कराने पर प्राप्त ट्रांजैक्शन नंबर को भी टेंडर के समय वेबसाइट पर डाला जाएगा। टेंडर स्वीकार होने पर मूल अभिलेख व्यक्तिगत रूप से विभाग को प्रस्तुत किया जाएगा। टेंडर स्वीकार होने के बाद प्रतिभूमि धनराशि मूल रूप से प्रस्तुत नहीं करने पर टेंडर दाता के विरुद्ध वाद दायर कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा उसका रजिस्ट्रेशन निरस्त कर काली सूची में डाल दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:irrigation
कामकाज के लिए-निर्माण निगम कर्मियों का आन्दोलन 16 अक्टूबर सेएमएसडीपी के तहत गाजियाबाद के राजकीय इंटर कालेजों को मिले एक करोड़ 42 लाख