class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रा्ज्यपाल ने लोकायुक्त की विशेष रिपोर्ट पर सरकार से स्पष्टीकरण मांगा

विशेष संवाददाता - राज्य मुख्यालय राज्यपाल राम नाईक ने लोकायुक्त की वार्षिक रिपोर्ट-2016 को राज्य सरकार को भेजते हुए उसके संबंध में स्पष्टीकरण मांगा है। राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में कहा है कि लोकायुक्त और उप-लोकायुक्त की वार्षिक रिपोर्ट-2016 पर राज्य सरकार का स्पष्टीकरण उपलब्ध कराया जाए जिससे उसे राज्य विधान मण्डल के दोनों सदनों के समक्ष प्रस्तुत करवाया जा सके। लोकायुक्त ने 16 जून 2017 को राज्यपाल से मिलकर वार्षिक रिपोर्ट-2016 प्रस्तुत की थी। लोकायुक्त की वार्षिक रिपोर्ट में लोकायुक्त संस्था को प्राप्त भ्रष्टाचार संबंधी शिकायतों पर की गई जांच का विवरण दिया गया है। लोकायुक्त द्वारा प्राप्त शिकायतों पर अपनाई जाने वाली प्रक्रिया, लोकायुक्त, उप लोकायुक्त अधिनियम के तहत जांचोपरान्त सक्षम अधिकारी को भेजी गई रिपोर्ट एवं विशेष रिपोर्ट का उल्लेख किया गया है। लोकायुक्त न्यायमूर्ति संजय मिश्रा ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में जांच पड़ताल के बाद 8 प्रतिवेदनों को सक्षम प्राधिकारी (मुख्य सचिव) को भेजने और विशेष प्रतिवेदन भेजने का उल्लेख किया है। लोकायुक्त ने वार्षिक प्रतिवेदन 2016 में प्राप्त शिकायतों का उल्लेख करते हुए बताया है कि वर्ष 2016 में जनवरी से दिसम्बर तक कुल 3,393 शिकायतें आम जन से प्राप्त हुई थीं, जिस पर कार्रवाई करते कुल 3,083 शिकायतों का निस्तारण किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:governor letter to cm
यूपी में स्वच्छता अभियान के हकीकत की होगी परखसहकारिता मंत्री ने दिए 6 प्रबंधकों का तबादला करने के निर्देश