class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजधानी के दो क्षेत्रों के लोग आज से करा सकते हैं ई-रजिस्ट्री

मकान, दुकान, प्लाट, जमीन, फ्लैट जैसी सम्पत्तियों की रजिस्ट्री करवाने के लिए अब राजधानी के दो क्षेत्रों के लोगों को रजिस्ट्री दफ्तर में घंटो इंतजार नहीं करना पड़ेगा। शुक्रवार से राजधानी के उपनिबंधक-तीन व मलिहाबाद तहसील में ई-रजिस्ट्री शुरू होने जा रही है। सरकार ने पायलट प्रोजेक्ट के रूप में राजधानी के दो क्षेत्र चुने हैं। लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए ई-रजिस्ट्री अभी प्रयोग के तौर पर शुरू की जा रही है। ई-रजिस्ट्री की प्रक्रिया सफलतापूर्वक चलने के बाद इसे प्रदेश के सभी जिलों में लागू किया जा सकता है। इस तरह से होगी ई-रजिस्ट्री ई-रजिस्ट्री ऑनलाइन होगी। इसके तहत निबंधन विभाग के पोर्टल igrsup.gov.in के मुख्य पृष्ठ पर सम्पत्ति पंजीकरण पर जाकर आवेदन करना होगा। यहां नाम, पिता का नाम जैसी सूचनाएं दर्ज करनी होंगी। एक पासवर्ड बनाएंगे। फिर सम्पत्ति की जानकारी भरनी होगी। सब रजिस्ट्रार तीन अनुपम सिंह बताते हैं कि मल्यांकन करे पर क्लिक करेंगे तो पता चल जाएगा कि कितना स्टाम्प देना, कितनी फीस लगेगी। इसके बाद अन्य जानकारी पैन नम्बर, आईडी, पता दर्ज करना होगा। खुद पेश कर रहे है दस्तावेज या मुख्तारनामा के मार्फत पेश कर रहे हैं वह पूछेगा। क्रेता- विक्रेता, गवाहों की जानकारी भी भरनी होगी। इसके बाद 16 डिजीट का नम्बर मिल जाएगा। इसे लेकर फिर सब रजिस्ट्रर दफ्तर जाना होगा। यहां नम्बर से ट्रेस हो जाएगा। दफ्तर में जाकर अंगूठे का निशान और फोटो देनी होगी और रजिस्ट्री पूरी हो जाएगी। रजिस्ट्री के कागज भी बनवाने होंगे रजिस्ट्री के कागजात पहले की ही तरह ही तैयार कराए जाएंगे। स्टाम्प पेपर पर कागजात बनवा सकते हैं। या ई-स्टाम्प लेकर सादे कागज पर डिटेल भर सकते हैं। एक महीने का मिलेगा समय ई-रजिस्ट्री आवेदन करने के बाद सब रजिस्ट्रार दफ्तर में उसे जमा करने के लिए एक माह का समय मिलेगा। सुविधा के अनुसार आवेदक किसी भी दिन 16 डिजिट का नम्बर और रजिस्ट्री के कागजात लेकर सब रजिस्ट्रर दफ्तर में रजिस्ट्री करा सकते हैं। अब नहीं लेना होगा टोकन अभी तक रजिस्ट्री कराने में पहले सब रजिस्ट्रार दफ्तर में टोकन भरा जाता था। ऑनलाइन आवेदन में भरी गई जानकारियों को ऑपरेटर भरता था। इनमें घंटो का समय लग जाता था। अब पांच मिनट में काम हो जाएगा। समय बचेगा। इन क्षेत्रों की होगी ई-रजिस्ट्री सब रजिस्ट्रार तीन - इंदिरा नगर, महानगर, विकास नगर, कल्याणपुर, जरहरा, मटियारी, कमता, राजेन्द्र नगर, मशकगंज, कुंडरी रकाबगंज आदि मलिहाबाद सब रजिस्ट्रार - तहसील के तहत आने वाला क्षेत्र ई-रजिस्ट्री के विरोध में उतरे वकील ई-रजिस्ट्री का वकील विरोध कर रहे हैं। इसे लेकर शुक्रवार को वकील विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं। निबंधन विभाग ने वकीलों को मनाने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। कुछ वकील ऑनलाइन के साथ ऑफ लाइन रजिस्ट्री जारी रखने की मांग कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:E registry
नगर निगमकर्मियों ने आरपार लड़ाई की दी चेतावनीलोक आयुक्त ऐक्ट की शक्तियों का होगा अधिकतम उपयोग