class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गांवों में 11 अक्तूबर को खिंचेगा मनरेगा के कामों का खाका

- ठोस तरल अवशिष्ट प्रबंधन तथा जल संरक्षण की कार्ययोजना भी बनेगी - ग्राम समृद्धि व स्वच्छता पखवाड़ा का विस्तृत कार्यक्रम जारी राज्य की पंचायतों में मनरेगा के तहत होने वाले कामों की कार्ययोजना 11 अक्तूबर को बनाई जाएगी। इसी दिन पंचायतों में स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए ठोस तरल अवशिष्ट प्रबंधन और जल संरक्षण की कार्ययोजना भी बनेगी। ग्राम्य विकास विभाग ने इस आशय का पत्र सभी जिलाधिकारियों को भेजा है। राज्य के गांवों में एक से 15 अक्तूबर तक ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़ा मनाया जाएगा। इन पंद्रह दिनों में गांव की सफाई के साथ ही गांव के विकास, युवाओं को रोजगार से जोड़ने, स्वास्थ्य, कृषि आदि से जुड़े कार्यक्रम होंगे। आयुक्त ग्राम्य विकास द्वारा भेजे गए पत्र के मुताबिक एक अक्तूबर को सभी पंचायतों में स्वच्छता अभियान शुरू होगा। दो अक्तूबर को गांवों में प्रभातफेरी, बाल सभा, ग्राम सभा के कार्यों की प्रस्तुति, मिशन अंत्योदय की सूचना, ग्राम पंचायत परिषद की बैठक के साथ ही शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम किए जाने हैं। 03 से 07 अक्तूबर के बीच पंचायतों में स्वच्छता अभियान, स्वच्छ हरित गांव, शौचालय प्रयोग के लिए व्यवहार परिवर्तन, गांव की सड़कों तथा आंगनबाड़ी केंद्रों की सफाई का कार्यक्रम तय किया गया है। गांवों में 08 व 09 अक्तूबर को कृषि सभाएं होंगी। 10 अक्तूबर को जीपीडीपी की समीक्षा होगी। 11 अक्तूबर का दिन गांव के विकास कार्यों तथा मनरेगा जॉब कार्ड वालों पर केंद्रित है। इस दिन पंचायतों में यह तय होगा कि मनरेगा के तहत कौन से कार्य होंगे। इसकी कार्ययोजना बनेगी। 12 अक्तूबर को एलपीजी तथा सौर प्रकाश का सत्यापन होगा। 13 और 14 अक्तूबर को ग्रामीण युवाओं के लिए कौशल विकास पंजीकरण और एकजुटता शिविर का आयोजन किया जाएगा। अंतिम दिन 15 अक्तूबर को पंचायतों द्वारा की गई कार्रवाई की रिपोर्ट प्रस्तुत की जानी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Draft on works of MNREGA in Panchayats on October 11
पेंशन योजना से इस वर्ष 9.30 लाख दिव्यांगजन लाभान्वित होंगेअंबेडकरनगर : छात्र की बर्बर पिटाई, शिक्षक पर केस दर्ज