class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीवन बीमा का पैसा नहीं देने पर लेखाकार बर्खास्त

लखनऊ। निज संवाददाता

सेवानिवृत कर्मी का बकाया भुगतान में लापरवाही बरतने पर एक लेखाकार को बर्खास्त कर दिया गया। परिवहन आयुक्त कार्यालय पर तैनात लेखाकार सेवानिवृत कर्मी का जीवन बीमा का भुगतान काफी दिनों से लटकाए हुए था। पीड़ित कर्मी द्वारा बार-बार भुगतान करने की गुजारिस पर भी भुगतान नहीं किया। लिहाजा लेखाकार अलाउद्दीन को आंतरिक लेखा विभाग के निदेशक ने अनियमितता बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया।

परिवहन विभाग मुख्यालय पर तैनात लेखाकार अलाउद्दीन यात्री कर अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुए रामदेव आर्या का जीवन वीमा का पैसे का भुगतान काफी दिनों से लटकाए हुए थे। कई बार चक्कर लगाने के बावजूद लेखाकार ने भुगतान नहीं किया। परेशान सेवानिवृत रामदेव आर्या ने न्यायालय प्राधिकरण में इस बात की शिकायत की। प्राधिकरण ने मामले की सुनवाई करते हुए पीड़ित कर्मचारी को समस्त भुगतान सहित 1250 रुपये ब्याज समेत तत्काल पूरा भुगतान करने का आदेश दे दिया। लेखाकर भुगतान करने के बजाय सेवानिवृत रामदेव आर्या को टहला दिया। विभागीय सूत्रों की मानें तो परिवहन आयुक्त ने भी भुगतान का आदेश दिया था, लेकिन लेखाकार ने एक भी न सुनी। परिवहन विभाग की तरफ से लेखा विभाग को पत्र भेजकर लेखाकार की लापरवाही की शिकायत की गई। परिवहन विभाग के पत्र के बाद निदेशक, आंतरिक लेखा ने अकाउंटेंट अलाउद्दीन को सस्पेंड कर दिया।

एक माह में दो लेखाकार बर्खास्त

बीते महीने आरटीओ कार्यालय में बिजिलेंस के छापे के दौरान एक अकाउंटेंट के कमरे में दलाल को धर दबोचा था। इसके बाद लेखा विभाग ने लेखाकार को बर्खास्त कर दिया। अभी कुछ दिन ही बीते थे कि परिवहन आयुक्त कार्यालय पर तैनात एक और लेखाकार पर निलंबन की गाज गिर गई है। ऐसे में बीते एक माह के अंदर दो लेखाकार का बर्खास्त होना विभागीय कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा हो गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dismiss accountants on life insurance not giving money
राष्ट्रीय एससी आयोग ने बीबीएयू में नियुक्त प्रक्रिया रोकने का दिया निर्देशपटाखे से बच्चे की आंख फूटी