class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माताओं ने रखा हल षष्ठी व्रत

लखनऊ। निज संवाददातासंतान की लम्बी उम्र के लिए माताओ ने रविवार को हलषष्ठी का व्रत रखा। भगवान श्रीकृष्ण के बड़े भाई श्री बलराम जी के जन्म उत्सव के रूप में मनाया गया। बलराम जी का शस्त्र हल और मूसल है। हलषष्ठी के व्रत में माएं संतान सुख और परिवार की कुशलता की कामना के लिए महिलाए न केवल व्रत रखा बल्कि बगैर हल के पैदा हुये अनाज की भी पूजा की। हरछठ पूजन में सतनजा (सात तरह के अनाज) चढ़ाया और हरछठ के पास आभूषण और हल्दी से रंगा वस्त्र भी रखकर कथा सुनी और संतान व पति के लम्बी आयु की कामना की। आज के दिन बलराम का जन्म हुआ था। ग्रामीण इलाको में समृद्धि के प्रतीक हल की पूजा की गई। महिलाओं ने तिन्नी के चावल, दही और सभी अनाजों की पूजा की। इस दिन तिन्नी के चावल, दही और महुआ का सेवन ही महिलाएं करती है। हरछठ के व्रत का सामवार को प्रातः परायण करेंगी। दो दिन मनेगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमीलखनऊ। निज संवाददाता भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव 14 और 15 अगस्त को मनाया जायेगा। वैसे तो राजधानी में ज्यादातर कार्यक्रम 15 को ही है। कान्हा के जन्मोत्सव को लेकर पूरे शहर में तैयारियां को अन्तिम रुप दिया जा रहा है। कही जन्मोत्सव तो कही भगवान श्रीकृष्ण के जीवन से जुड़ी झांकियां सजाई गई है। जन्माष्टमी का मुख्य कार्यक्रम पुलिस लाइन में होगा। यहां कान्हा की लीलाओं की झांकिया सजाई गई है। जमुना जी में कालिया नाग के ऊपर मर्दन करते हुए कान्हा, अपनी उंगली पर उठाये गोवर्धन पर्वत के अलावा कृष्ण से जुड़ी विभिन्न लीलाओ की झांकी तैयार की गई है। मित्तल परिवार की ओर से गणेशगंज अमीनाबाद रोड वाली डिजिटल मूविंग झांकी 15 अगस्त से फिर शुरू हो रही हैं। 6 दिन बदलने वाली झांकी के अलावा यहां शाम को भजन, आल्हा गायन, सुंदरकांड पाठ होगा। नृत्य नाटिका के संग जादू, बीन और बंदर नचाता मदारी अपने करतब दिखायेगा। दूसरे दिन 12 साल तक के बच्चों की गायन और नृत्य प्रतियोगिता होगी। झांकी का खास आकर्षण होगी सेल्फी इन सी और सेल्फी ओन क्लाइम्बिंग वाल। सेल्फी और गायन प्रतियोगिता के विजेता अंतिम दिन पुरस्कृत किये जायेंगे। संयोजक अनुपम मित्तल ने बताया कि 20 अगस्त तक चलने वाले आयोजन में लगातार छह दिन लोगों को भगवान श्रीकृष्ण के जीवन के विविध पहलुओं से जुड़े प्रसंग देखने को मिलेंगे। झांकी की शुरुआत पहले दिन 15 अगस्त को श्रीकृष्ण पालने से होगी। इस्कॉन मन्दिरअन्तर्राष्ट्रीय कृष्ण भावनामृत संघ इस्कान की ओर से सुलतानपुर रोड स्थित इस्कान मन्दिर में 15 को जन्माष्टमी महोत्सव और 16 को नन्दोत्सव का आयोजन किया जायेगा। मन्दिर के अध्यक्ष अपरिमेय श्याम दास ने बताया कि 15 को सुबह 4.30 मंगला आरती, भजन कीर्तन, महाआरती, छप्पन भोग सभी कार्यक्रम रात्रि एक बजे तक चलेंगे। उन्होंने बताया कि 16 को नन्दोत्सव सुबह 9 बजे से शुरु होगा। बाद में भण्डारा शुरु होगा।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:dharm
आजादी उत्सव में गूंजे देशभक्ति के तरानेअयोध्या में एडीजी ने अधिग्रहित परिसर का किया निरीक्षण