class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डग्गामार बस जब्त करने पर यात्रियों ने किया हंगामा

लखनऊ। निज संवाददाता दिल्ली से गोरखपुर जा रही डग्गामार स्लीपर बस को अवध चौराहे पर आरटीओ चेकिंग दल ने सोमवार की सुबह पकड़ लिया। बिना कागजता बस का चालान करते हुए बस पीजीआई थानें में बंद कर दिया। इस दौरान बस में सवार यात्रियों ने बस छोड़ने को लेकर जमकर हंगामा काटा। यात्रीकर अधिकारी ने इन यात्रियों को दूसरी बस से गोरखपुर के लिए रवाना किया जब जाकर मामला शांत हुआ। यात्रीकर अधिकारी नागेंद्र बाजपेई ने बताया कि सोमवार की सुबह एक बस को पकड़कर बंद करने और बस में सवार यात्रियों को दूसरी बस से भेजने में चार घंटे का वक्त लग गया। बिना परमिट और कागजात बस को पीजीआई थाने में बंद करा दिया गया। बस में सवार यात्रियों ने पहले से ही गोरखपुर का किराया दे रखा था। लिहाजा यात्री लखनऊ से गोरखपुर के बीच दूसरी बस का किराया देने से इंकार कर रहे थे। ऐसे में बस ड्राइवर थाने में बंद करने के बाद ड्राइवर से किराया वसूलकर दूसरी बस से 25 यात्रियों को दिल्ली भेजा गया। यात्री व अधिकारी दोनों डग्गामार बस से है परेशान दिल्ली के आनन्द विहार बस अड्डे के सामने डग्गामार बसों का स्टैंड बना है। इन बसों के दलाल बस अड्डे के अंदर से लखनऊ, गोरखपुर की सवारियों को सस्ते किराये में जल्दी पहुंचाने का दावा करते हुए यात्रियों को अपने जाल में फंसा लेते है। ये बस बिना परमिट यूपी में प्रवेश करती हैं। इन बसों को बिना परमिट के आरोप में पकड़कर बंद करते है। इससे यात्रियों को बीच रास्ते में उतरना पड़ता है जबकि इन यात्रियों ने पहले से ही पूरा किराया दे चुके होते है। इस बात को लेकर यात्री हंगामा करते है और अधिकारी बस बंद करने के बाद दूसरे बस से किराया की वजह से यात्रियों को भेजने में परेशान होते है।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Daggamar just seized by passengers on to ruckus
चोरी हुए चेकों से जालसाजों ने निकाले 3.5 लाख रुपएजीएसटी व मंडी शुल्क के विरोध में प्लाईवुड का उत्पादन बंद