class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डफरिन अस्पताल में बनेगी पांच बेड की हाई डिपेंडेंसी यूनिट

लखनऊ। निज संवाददाता डफरिन महिला अस्पताल में पांच बेड की हाई डिपेंडेंसी यूनिट (एचडीयू ) बनेगी। जहां गम्भीर मरीजों का इलाज हो सकेगा। अभी पांच बेड का आइसीयू बनने का प्रस्ताव था। यह आदेश भारत सरकार के सचिव चिकित्सा सीके मिश्रा ने दिया। वह सोमवार को डफरिन अस्पताल में एनएचएम के तहत संचालित कार्यों का निरीक्षण करने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि आईसीयू के लिए संसाधन बढ़ाने होंगे। जबकि वार्ड को अपडेट कर प्रसूताओं को और बेहतर चिकित्सा सुविधा दी जा सकती है। डफरिन की प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सविता भट ने बताया कि पांच बेड की एचडीयू का प्रस्ताव डीजी हेल्थ को भेजा जाएगा। प्रस्ताव पर मंजूरी मिलने के बाद एचडीयू के लिए एनएचएम बजट जारी करेगा। वहीं केन्द्रीय चिकित्सा स्वास्थ्य टीम ने कैसरबाग स्थित डफरिन महिला अस्पताल पहुंचकर स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली। टीम ने एनएचएम के तहत संचालित योजनाओं को देखा। सबसे पहले टीम ने सम्पूर्णा क्लीनिक का निरीक्षण किया। जहां 35 साल से अधिक ऊम्र की महिलाओं का स्म्पूर्ण स्वास्थ्य परीक्षण होता है। इसके बाद टीम सिक न्यू बार्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) पहुंची। यहॉ नवजात बच्चों को उपलब्ध कराई जा रही व्यवस्थाओं के बारे में जाना। टीम ने केएमसी, ओपीडी, लेबर रूम पहुंचकर प्रसूताओं से इलाज के बारे में जानकारी ली। इसके बाद टीम पैथालॉजी, किशोरी स्वास्थ्य क्लीनिक व फैमिली प्लानिंग सेंटर पहुंची। इस दौरान एमडी एनएचएम आलोक कुमार, प्रमुख सचिव चिकित्सा प्रशांत कुमार, एनएचएम सलाहकार डॉ. बलजीत अरोड़ा, जीएम चाइल्ड हेड डॉ. बलजीत अरोड़ा, प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डफरिन डॉ. सविता भट्, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. साधना सक्सेना व डॉ. सलमान आदि शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:dafrin hospital
यात्रियों के चोरी गए मोबाइल फोन संग चार चोर गिरफ्तारमुलायम की गैरहाजिरी में सपा दफ्तर में हुआ रोजा अफ्तार