class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दलित होने के नाते बसपा का रूख सकारात्मक-मायावती

विशेष संवाददाता - राज्य मुख्यालय बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने राष्ट्रपति पद के लिए राजग उम्मीदवार रामनाथ कोविंद पर सोमवार को अपनी पार्टी का रूख स्पष्ट करते हुए कहा है कि दलित होने के नाते बसपा का रूख सकारात्मक है। यदि विपक्ष इस पद के लिए अन्य कोई दलित वर्ग का इनसे अधिक लोकप्रिय व काबिल उम्मीदद्वार चुनाव के मैदान में नहीं उतरता है। मायावती ने एक बयान जारी कर कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केन्द्र सरकार के वरिष्ठ मंत्री एम़ वेंकैया नायडू ने उन्हें टेलीफोन कर यह बताया है कि भाजपा व राजग ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए दलित वर्ग से रामनाथ कोविंद का नाम तय कर दिया है। वे मूल रूप से यूपी के कानपुर के निवासी हैं और दलित वर्ग में कोरी जाति से ताल्लुक रखते हैं, जिनकी संख्या पूरे देश में बहुत कम है। उन्होंने कहा कि श्री कोविंद शुरू से ही भाजपा व आरएसएस से जुड़े रहे हैं, इसलिए इनकी इस राजनैतिक पृष्ठभूमि से वह कतई भी सहमत नहीं हैं लेकिन इनके दलित होने के नाते इनके प्रति हमारी पार्टी का स्टैण्ड नकारात्मक तो नहीं हो सकता है, अर्थात सकारात्मक ही रहेगा। मायावती ने कहा कि यदि इनके नाम की घोषणा करने से पहले भाजपा सभी विपक्षी पार्टियों को विश्वास में लेती तो यह ज्यादा उचित रहता। हालांकि इनसे पहले दलित वर्ग से के़ आऱ नारायणन भी राष्ट्रपति पद पर आसीन हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा व राजग राष्ट्रपति पद के लिए दलित वर्ग से किसी गैर राजनैतिक व्यक्ति को आगे करते तो यह ज्यादा बेहतर होता।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:being dalit BSP stand positive about Ramnath Kovind-Mayawati,