class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीबीएयू में आज से शुरू होगा एकेडमिक आडिट

लखनऊ। निज संवाददाताबाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय (बीबीएयू) में शनिवार से यूजीसी की आडिट टीम का निरीक्षण शुरू होगा। टीम तीन दिन तक परिसर में रहा कर विश्वविद्यालय का एकेडमिक आडिट करेगी। उसकी सिफारिश पर ही विश्वविद्यालय का भविष्य तय होगा। करीब दो वर्ष पहले विश्वविद्यालय को नैक मू्ल्यांकन में ‘एग्रेड हासिल हुआ था। इसके बाद से विश्वविद्यालय का पतन शुरू हो गया। जानकारों का कहना है कि इसका प्रमुख कारण विश्वविद्यालय में जातिगत मतभेद है। जिसके चलते पढ़ाई का माहौल खत्म हो गया। हालात यह हैं कि वर्तमान शैक्षिक सत्र करीब तीन माह बाद शुरू हुआ। इसके बावजूद कई कोर्सो में छात्र दाखिले के लिए मिले ही नहीं। साथ ही अधिकांश कोर्सो में 50 फीसदी सीटें भी नहीं भरी हैं। गिरते एकेडमिक स्तर के चलते एमएचआरडी ने बीबीएयू को खराब प्रदर्शन वाले विश्वविद्यालयों की सूची में डाल दिया है। इसके बाद विश्वविद्यालय की वास्तविक स्थिति को जानने के लिए यूजीसी ने बंग्लौर स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस के प्रो. गौतम देसी राजू दल की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय आडिट टीम भेजी है। इसमें सदस्य के रूप में मणिपुर विवि के प्रो. ईबी टोमी, वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालियन जियोलॉजी के निदेशक डॉ. अनिल गुप्ता, डीएसटी के केपी पांडियन और उत्तराखण्ड के काशीपुर स्थित आईआईएम के डॉ. केएन बंधानी दल में शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BBAU will start academic audit today
दृष्टिबाधित विद्यार्थियों को ब्रेल लिपि में मिलेगी मार्कशीटलोकतंत्र को पटरी से उतारने की हो रही कोशिश : चौधरी