class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीबीएयू ने दलित छात्रों के कार्यक्रम की अनुमति ली वापस

लखनऊ। निज संवाददाताबाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय (बीबीएयू) प्रशासन ने बहुजन छात्रों एवं शिक्षको का 14 अक्तूबर को आयोजित होने वाले ‘धम्मा चक्र परिवर्तन दिवस कार्यक्रम की अनुमति वापस ले ली है। आयोजक छात्रों का दावा है कि विवि प्रशासन ने 6 अक्तूबर को सभागार और कार्यक्रम करने की लिखित स्वीकृत दे दी थी। बहुजन छात्रों के इस कार्यक्रम के आयोजित होने के एक दिन पूर्व विवि के कुलपति द्वारा कार्यक्रम रदद् कर दिया गया। इसमें मुख्य अथिति के रूप में बहराइच की सांसद सावित्री बाई फुले जी (सदस्य, एमएचआरडी एंव सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्रालय) और की सांसद डॉ अंजू बाला (सदस्य, बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट, बीबीएयू) को विशिष्ट अथिति के रूप में आमंत्रित कर दिया गया था। अनुमति वापस लेने पर छात्रो में रोष एवं निराशा का भाव है। उन्होंने सूचना मानव संसाधन विकास मंत्रालय ,सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्रालय एवं राष्ट्रिय अनुसूचित जाति आयोग को लिखित शिकायत भेजी है। दूसरी ओर विवि के प्रशासन का कहना है कि 14 से तीन दिन तक यूजीसी की आडिट टीम रहेगी। उसमें किसी प्रकार की बाधा आने की आशंका के मद्देनजर आयोजकों से पर्यावरण संकाय के डीन ने कहा था कि इस बारे में कुलपति से बात करनी पड़ेगी, लेकिन आयोजक-छात्र शिक्षक वापस आए नहीं। अगर आएंगे तो उन्हें सभागार की चाभी दे दी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BABU got permission for Dalit students' program
बस अड्डे का टिकट काउंटर बंद, यात्री परेशानदृष्टिबाधित विद्यार्थियों को ब्रेल लिपि में मिलेगी मार्कशीट