class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रमाबाई रैली स्थल जा रहे दो दोस्तों की हादसे में मौत

- सोमवार सुबह 4:30 बजे हुआ हादसा, ओवरटेक में गई युवकों की जान - पीछे बस से आ रहे मामा ने की दोनों की शिनाख्त, योगदिवस से पूर्व जा रहे थे रिहर्सल में शिरकत करने लखनऊ। निज संवाददाता योग दिवस पर होने वाले मुख्य आयोजन के रिहर्सल पर सोमवार तड़के रमाबाई रैली स्थल कार्यक्रम स्थल जा रहे बाइक सवार दो दोस्तों की गोमतीनगर स्थित शहीद पथ पर दर्दनाक हादसे में मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बाइक सवार युवक ने एक ट्रक को ओवरटेक किया। जिससे वह असंतुलित होकर ट्रक से टकरा गया। दोनों लोग ट्रक के पहिये के नीचे आ गए। इसी बीच पीछे से आ रहे भारी वाहन ने उन्हें कुचल दिया। जिससे दोनों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना पर गोमतीनगर पुलिस पहुंची और शिनाख्त की। मंगलवार को योगदिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रमाबाई रैली स्थल में कार्यक्रम प्रस्तावित है। लिहाजा सोमवार तड़के शहर के विभिन्न इलाकों से हजारों लोग कार्यक्रम स्थल पर होने वाली रिहर्सल में हिस्सा लेने पहुंचे। शहीद पथ पर ट्रक से टकराए, दोनों की मौत इंदिरानगर के सेक्टर-19 निवासी पीके मलिक रेलवे से रिटायर है। उनका बेटा पल्लव मलिक (18) और सेक्टर 21/311 निवासी रमाशंकर शर्मा का इकलौता बेटा अकाश विश्वकर्मा (24) सोमवार सुबह करीब 4:15 बजे बाइक से रमाबाई रैली स्थल जाने के लिए निकले। गोमतीनगर विस्तार स्थित शहीद पथ पर ट्रक को ओवरटेक करने के फेर में बाइक ट्रक से टकरा गई। जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। मेधावी छात्र था पल्लव पल्लव ने वर्ष 2017 में इंटर पास किया था। वह मेधावी छात्र था। पल्लव बीटेक करना चाहता था। लिहाजा उसने यूपीटीयू में दाखिले के लिए परीक्षा दी। परिवार में छोटा भाई प्रबीर मलिक, मां सुप्रिया मलिक है। बेटे की मौत की खबर सुनते ही पूरे घर में कोहराम मच गया। उन्हें यकीन नहीं आ रहा था कि पल्लव इस दुनिया में नहीं रहा। इकलौते बेटे की मौत से घर में मचा कोहराम आकाश विश्वकर्मा के पिता रमाशंकर दक्षिण अफ्रीका में एक फैक्ट्री में नौकरी करते है। आकाश इकलौता बेटा था। परिवार में छोटी बहन आयूषि और मां सुमन है। बेटे की मौत की खबर सुनते ही घर में कोहराम मच गया। मां सुमन बेहोश हो गई। मामा श्रीकांत ने बताया कुछ माह पहले आकाश की एक निजी कंपनी में नौकरी लगी थी। उसके पिता को हादसे की सूचना दे दी गई है। हादसे के बाद लगा जाम, बस में बैठे मामा ने की पहचान आकाश के मामा श्रीकांत के मुताबिक दोनों लोगों के जाने के बाद वे लोग बस से रमाबाई रैली स्थल के लिए जाने लगे। गोमती नगर विस्तार स्थित शहीद पथ पर सुबह 4:30 बजे शहीद पथ जाम लगा था। बस ड्राइवर ने उन लोगों को बताया कि आगे कोई हादसा हुआ है। दो युवकों की मौत हो गई। धीरे धीरे जाम हटा, पुलिस ने दोनों शव को किनारे करके ट्रैफिक संचालन कराया। बस जैसे ही शव के सामने से गुजरी तो श्रीकांत ने आकाश और पल्लव को पहचान लिया। यह देखकर वह चीखते हुए बस से कूद पड़े। पुलिस ने उन्हें संभाला। बस में बैठने के बाद उतरकर बाइक से गए लोगों ने बताया कि पल्लव और आकाश बस से रमाबाई रैली स्थल जाने वाले थे। दोनों लोग बस में बैठ गए। पर, बस में जगह कम पड़ गई। इस पर आकाश ने पल्लव के साथ बाइक से जाने का इरादा बनाया। हालांकि कुछ लोगों ने उन्हें बस से चलने की हिदायत दी। पर, दोनों लोगों ने बाइक से जाने की बात कही और बस से उतरकर बाइक से चले गए। कालोनी में दो युवकों की मौत की खबर सुनते ही लोगों का तांता लग गया। हर किसी के जुबां पर इस हादसे की चर्चा थी। ------------ खड़े ट्रक में बाइक टकराने से महिला समेत दो की मौत लखनऊ। निज संवाददाता फैजाबाद रोड स्थित बीबीडी के पास रविवार रात सड़क पर खड़े ट्रक में बाइक टकराने से महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई। सूचना पर चिनहट पुलिस पहुंची और उन्हें लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने दोनों लोगों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने उनके पास से मिले मोबाइल से पहचान की। चिनहट इंस्पेक्टर के मुताबिक रविवार रात करीब 1:30 बजे सड़क पर खड़े ट्रक में बाइक घुसने से मूलत: बिहार के मोतीहारी निवासी प्रभूनाथ राम (35) और पश्चिम बंगाल निवासी महिला मित्र शैफाली बर्मन (32) की मौत हो गई। दोनों लोग एक प्लाइवुड फैक्ट्री में काम करते थे और तिवारीगंज में एक कमरे में रहते थे। बताया जा रहा है कि रविवार को फैक्ट्री में छुट्टी होने की वजह से दोनों लोग बाराबंकी से लौट रहे थे। प्रभुनाथ विवाहित है और उसका परिवार बिहार में रहता है। वहीं, सैफाली तीन माह पहले ही दिल्ली से लखनऊ आई थी और फैक्ट्री में नौकरी कर रही थी। उसके पति की कई साल पहले मौत हो चुकी है।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:accident
तेरे चितवन की एक किरन छूकर मेरे जीवन में रोशनी आई...रोजे का समया