class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिविल कोर्ट और पुराने हाईकोर्ट के बीच रास्ते का विकल्प तलाशें

सिविल कोर्ट से हाईकोर्ट की पुरानी इमारत में सुगमता से आने जाने के लिए जल्द ही नए रास्ते का विकल्प तलाश लिया जाएगा। जबकि वहां स्वच्छ पेयजल व शौचालय आदि की सफाई के लिए केंद्रीय नाजिर को निर्देशित कर दिया गया है। एडीजे उमाशंकर शर्मा ने यह जानकारी सेंट्रल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मृगेंद्र पांडेय को दी है। उन्होंने जिला जज के निर्देश पर प्रेषित पत्र में कहा है कि अधिवक्ता समाज न्यायालय का अभिन्न अंग है। इसलिए उनकी समस्याओं को वह अपनी समस्या समझते हैं। जल्द ही अन्य समस्याओं का निराकरण भी कर लिया जाएगा।

सेंट्रल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मृगेंद्र पांडेय ने इस आश्वासन पर 13 अक्टूबर को वकीलों के हित में होने वाली अपनी सांकेतिक सत्याग्रह स्थगित कर दी। उन्होंने न्यायालय की मर्यादा के मद्देनजर इस पत्र पर पूरा भरोसा जताया है। बीते 11 अक्टूबर को चीफ जस्टिस को पत्र भेजकर मृगेंद्र पांडेय ने इन सभी समस्याओं के तत्काल निराकरण की मांग की थी। साथ ही 13 अक्टूबर को सिविल कोर्ट के डा़ राजेंद्र प्रसाद सभागार में इन मसलों पर सांकेतिक सत्याग्रह की बात भी कही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:
महिला सीट होते ही बीजेपी में घट गए मेयर के दावेदारगायत्री प्रजापति के मामले में विवेचक 16 अक्तूबर को तलब