class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गरीबों को दो लाख में दो कमरे का मकान

शैलेंद्र श्रीवास्तव- राज्य मुख्यालय राज्य सरकार गरीबों को मुफ्त मकान देने के बजाय उन्हें दो लाख रुपये में दो कमरे का मकान देगी। प्रधानमंत्री आवास योजना में चार मंजिला अपार्टमेंट में गरीबों को मकान बनाकर दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस योजना को मंजूरी दे दी है और शासनादेश जल्द जारी करने की तैयारी है। प्रदेश में सत्ता बदलने के दौरान मुख्यमंत्री की बैठक में आवास एवं शहरी नियोजन विभाग ने गरीबों को दो कमरे का मुफ्त मकान बनाकर देने का प्रस्ताव रखा था। राज्य सरकार इन मकानों को बिल्डरों से बनवाकर मुफ्त लेना चाहती थी, लेकिन बिल्डर इस पर राजी नहीं हुए। इसलिए आवास व शहरी नियोजन विभाग ने प्रस्ताव बदल दिया। इसके मुताबिक मकान बनाने पर खर्च साढ़े चार लाख रुपये होगा। इसमें 1.50 लाख केंद्र व 1 लाख रुपये राज्य सरकार देगी और दो लाख आवंटी से लिया जाएगा। गरीबों को दिए जाने वाले मकान में दो कमरे, रसोई घर, शौचालय, स्नानघर व एक बालकनी होगी। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अफोर्डेबल हाउसिंग इन पार्टनरशिप के तहत बिल्डरों, आवास विकास परिषद व विकास प्राधिकरणों से मकान बनाकर गरीबों को दिए जाएंगे। कर्ज लेकर मकान खरीदने वाले आवंटियों की संपत्ति को बंधक रखने तथा कर्ज वसूली के लिए लोन लेने वाले को मकान बनाने का अधिकार होगा। मकान बनाने का लक्ष्य आवास विकास परिषद 30,000, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण 9000, कानपुर विप्रा. 10,000, लखनऊ विप्रा. 12,000, आगरा 10,000, इलाहाबाद 6500, मेरठ 2000, मुरादाबाद 5000, अलीगढ़ 3000, बरेली 1000, गोरखपुर 1500, मथुरा-वृंदावन 1500 मकान बनाएंगे। इसी तरह वाराणसी 1500, बांदा 500, बुलंदशहर 500, फैजाबाद 500, फिरोजाबाद 800, झांसी 800, मुजफ्फरनगर, रायबरेली, सहारनपुर, उन्नाव, रामपुर, उरई विप्रा. 500-500 मकान बनाएंगे। आजमगढ़ 200, बागपत 100 व बस्ती विकास प्राधिकरण 100 मकान बनाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गरीबों को दो लाख में दो कमरे का मकान
सीएम योगी ने वेंकैया नायडू को दी बधाईरजनीश भैया के ध्यानार्थ::::मुंह के ट्यूमर का ऑपरेशन कर महिला को दी नई जिंदगी