class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विश्व का सबसे बड़ा शौचालय भारत में बन रहा : बिंदेश्वर पाठक

बिंदेश्वर पाठक

सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक का कहना है कि विश्व का सबसे बड़ा शौचालय भारत में बन रहा है। यह शौचालय महाराष्ट्र के पूना बार्डर के पास पंडारपुर में आधा बनकर काम भी करने लगा है। इस शौचालय में 2,858 सीटें हैं। इससे पहले चीन में 1000 सीट का शौचालय था। 
4 लाख लोग हर दिन करेंगे इस्तेमाल
कानपुर के पहले अोडीएफ गांव ईश्वरीगंज में अायोजित राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के कार्यक्रम में शामिल होने अाए बिंदेश्वर पाठक देश में चल रहे स्वच्छता अभियान को लेकर उत्साहित है। उन्होंने लैंडमार्क होटल में ‘हिन्दुस्तान’से बातचीत में कहा कि महाराष्ट्र में बन रहा शौचालय आधा बन चुका है। इसका इस्तेमाल दो लाख लोग कर रहे हैं। जल्द ही शौचालय पूरा बनकर तैयार हो जाएगा। फिर 4 लाख लोग हर दिन इस शौचालय का इस्तेमाल करेंगे।
पीएम ने सौंपी है बड़ी जिम्मेदारी
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने उनको एक पत्र लिखा है। उनकी मंशा है कि 2 अक्टूबर 2019 तक भारत स्वच्छ अभियान का लक्ष्य पूरा कर ले। इस संबंध में प्रधानमंत्री ने सुझाव मांगे हैं। उनका कहना है कि एक शौचालय बनाने में 12 हजार रुपए के बजाय 25 हजार रुपए दिए जाए। इससे 10 फीसदी शौचालय के मानीटरिंग करने वाले को मिल जाएंगे। पांच फीसदी देखरेख करने वाली कंपनी को मिल सकते हैं। इस संबंध में उन्होंने सरकार को यह सुझाव पहले ही दिया है कि हर गांव में एक लड़के को प्रशिक्षित कर शौचालय की देखभाल के लिए रखा जाए। यह भी शर्त होनी चाहिए कि एक साल में शौचालय खराब होने पर मुफ्त में बनाया जाए। उन्होंने जानकारी दी कि देश में 6 लाख 44 हजार गांव हैं। सुलभ इंटरनेशनल 15 लाख घरों और 9 हजार सार्वजनिक स्थान में शौचालय बना चुकी है। देश में 8 करोड़ शौचालय की जरूरत है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: World's largest toilets are being made in India: Bindeshwar Pathak
आईआईटी कानपुर का पूर्व छात्र बना बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का सलाहकारकर्नाटक में शौचायल के लिए भूख हड़ताल करने वाली लावण्या अाज कानपुर से देंगी स्वच्छता का संदेश