class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP: रिवाल्वर रानी बनकर आई युवती और मंडप से दूल्हे राजा को उठा कर ले गई, देखें VIDEO

Revolver

बांदा के गहबरा गांव में सोमवार रात असलहाधारियों के साथ पहुंची प्रेमिका ने शादी के मण्डप से दूल्हे का अपहरण कर लिया। इससे न सिर्फ शादी रुक गई, बल्कि पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। चर्चा है कि दूल्हा पहले ही अपनी प्रेमिका से कोर्ट मैरिज कर चुका था और उसे धोखा देकर दूसरी शादी कर रहा था। फिल्मी स्टाइल में हुई घटना के बाद पुलिस सक्रिय हुई। दूल्हे की तलाश में पुलिस टीमें दौड़ाई गईं लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा।

बांदा जिले के मटौंध थाना क्षेत्र के मोहनपुरवा निवासी रामहेत यादव के बेटे अशोक यादव की 15 मई को हमीरपुर के मौदहा कोतवाली क्षेत्र के गहबरा गांव बारात आई थी। भवानी गांव निवासी रामसजीवन उर्फ लल्लू यादव बेटी की शादी अपने गांव से पांच किलोमीटर दूर गहबरा स्थित श्रीपद्मनाभन महाविद्यालय से कर रहे थे। विवाह स्थल पर  टीके की रस्म पूरी हो चुकी थी। इस बीच विवाह स्थल के पास चौपहिया वाहनों का काफिला आकर रुका। वाहनों में सवार कुछ लोग असलहों से लैस थे। इनके बीच से एक युवती निकली। वह सीधे दूल्हा अशोक के पास पहुंची और उसे खींचते हुए गाड़ी के पास ले गई। असलहाधारियों की मदद से युवती ने दूल्हे को गाड़ी में जबरन बैठा लिया और विवाह स्थल से निकल गई।

लोग देखते ही रह गए
विवाह स्थल पर घटनाक्रम इतनी तेजी से बदला कि कोई कुछ समझ ही नहीं पाया। दूल्हे के अपहरण की सनसनी के बीच धीरे-धीरे मामला साफ हुआ तो पता चला कि दूल्हे को उठाने वाली युवती बांदा की रहने वाली है। उससे दूल्हे अशोक का प्रेम-प्रसंग चल रहा था। चर्चा है कि दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली थी, लेकिन अशोक के परिवारजनों ने बेटे का रिश्ता तय कर दिया था। जब यह बात प्रेमिका को पता चली तो उसने दूल्हे का फिल्मी अंदाज में अपहरण कर लिया।  सूचना पर यूपी 100 की टीम पहुंची। पुलिस इस प्रकरण की छानबीन करने में जुटी हुई है। फिलहाल दूल्हे का कोई सुराग नहीं मिला है। शादी के मंडप से दूल्हे का अपहरण होने से दुल्हन भारती के सपने बिखर चुके हैं। 

हमीरपुर एएसपी बीके मिश्रा ने बताया कि मंडप से दूल्हे को उठाए जाने की मौखिक सूचना मिली है। मामले की जांच की जा रही है। अभी तक किसी ने तहरीर नहीं दी है। यूपी 100 की टीम मौके पर पहुंची थी। दूल्हे के भाई से पूछताछ की गई है, लेकिन कोई खास जानकारी नहीं मिली है। तहरीर मिलेगी तो कार्रवाई की जाएगी।


कंपाउंडर दूल्हे से तीन साल से था प्रेम संबंध
मौदहा के भवानी गांव से अपहृत किए गए दूल्हे अशोक का शहर  की एक लड़की से तीन साल पहले से प्रेम संबंध चल रहा था।अशोक एक डाक्टर के यहां कंपाउंडर था। अस्पताल के पड़ोस की एक लड़की को अपने प्यार के जाल में फंसा लिया था। हमीरपुर शादी तय होने के बाद अशोक ने शहर आना बंद कर दिया था। लड़की ने उससे संपर्क साधने की कोशिश की लेकिन अशोक नहीं मिलता था। लड़की को मामले की जानकारी हुई तो वह बारात में पहुंच गई और दूल्हे को अपहृत कर लिया। 

मोहनपुरवा निवासी अशोक कुमार छोटी बाजार में स्थित एक डाक्टर की डिसपेंसरी में बतौर कंपाउंडर काम करता था। उसका पड़ोस की ही एक लड़की से प्रेम संबंध था। लड़की के घर उसका आना-जाना भी था। लड़की भी अशोक की बातों में आकर उससे प्यार करने लगी। अशोक ने उससे झूठ बोला था कि उसकी शादी नहीं हुई है। बताया जाता है कि दोनों शादी करने का प्लान बना लिया था। चर्चा तो यह भी थी कि दोनों ने कोर्ट से विवाह कर लिया था। कुछ महीने पहले से अशोक ने नगर में आना बंद कर दिया। वह अपने गांव में ही झोलाछाप क्लीनिक चलाने लगा था।

लड़की ने अशोक से कई बार बात करने का प्रयास किया तो उसने मना कर दिया। अशोक ने अपने मोबाइल का नंबर भी बदल दिया था। इसी बीच अशोक की शादी हमीरपुर तय हुई तो लड़की को इसकी जानकारी हुई। बताया जाता है कि लड़की ने अशोक को शादी करने से मना किया था लेकिन वह नहीं माना। अशोक ने लड़की से अपना संबंध तोड़ने की बात कही थी। इससे नाराज लड़़की सीधा शादी समारोह में पहुंच गई। उसके साथ तमाम लोग भी मौजूद थे। लड़की ने दूल्हे से कहा कि अगर तुम यहां से नहीं चलोगे तो यहीं पर आत्महत्या कर लूंगी। बारात गए एक बाराती ने कि युवती काले शूट में आई थी। उसने पूछा कि अशोक कहां है उससे मुलाकात करनी है। घटना के समय अशोक दूल्हे वाली कार में बैठा था। लड़की अशोक के पास पहुंची तो वह आवाक रह गया। लड़की ने अपने साथियों के साथ दूल्हे को उसी की कार से अपहृत कर लिया। 

दूल्हे की हो चुकी है शादी, हैं दो बेटियां
दूल्हे अशोक यादव की आठ साल पहले मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले के लौसी गांव में शादी हुई थी। विवाह के बाद पहली पत्नी से अशोक को दो बेटियां दिव्यांशी (6) और शिवांशी (5) हैं। तीन साल पहले अशोक की पहली पत्नी की मौत हो गई। उसके बाद उसने नगर के छोटीबाजार इलाके की रहने वाली युवती को अपने जाल में फंसा लिया। युवती को भी धोखा देकर हमीरपुर शादी करने चला गया। इससे नाराज युवती ने उसको अपहृत कर लिया। 

टूटा फूटा घर, कम नहीं थी नेतागिरी
अशोक का घर टूटा फुटा है। मिट्टी का घर और ऊपर से खपरैल। घर का एक कमरा जिसकी दीवारें ईंट की हैं। ऊपर से टीन शेड रखा है। मंगलवार की सुबह उसके घर पर मातम छाया था। उसकी दो बेटियां चुपचाप बैठी थी। मां कुछ बोलने को तैयार नहीं थी। अशोक ने घरवालों को इस बारे में बताया भी नहीं। घर के पुरुष मौदहा थाने में बैठे थे। पुलिस ने अशोक के छोटे भाई को हिरासत में ले लिया।

गांव में लगा अशोक के बधाई की होर्डिंग
अशोक यादव ने गांव में गणतंत्र दिवस और नए वर्ष की बधाई की होर्डिंग लगा रखा था। उसने अपने नाम के नीचे अध्यक्ष निर्माण कार्य मोहनपुरवा लिखा है। बताया जाता है कि गांव की राजनीति में उसकी सक्रिय भूमिका थी। वह खुद को किसी बड़े नेता से कम नहीं मानता था। गांव के लोगों में तो यह भी चर्चा थी कि अशोक अपनी दूसरी शादी छिपाकर कर रहा था। जहां शादी हो रही थी वहां के लोगों के यह नहीं बताया था कि अशोक की पहले भी शादी हो चुकी है और उसकी दो बेटियां हैं। चर्चा यह भी थी कि जिस लड़की ने अशोक को अपहृत किया था वह पहले भी गांव में आ चुकी थी और अशोक से मिल चु

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Woman took away groom from his marriage