class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुशासन खत्म, सुशासन का दौर शुरू : डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय

भाजपा कार्यसमिति।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि यूपी में कुशासन खत्म हो चुका है और अब सुशासन का दौर शुरू हुआ है। कार्यसमिति ने यूपी सरकार के कामकाज पर भरोसा जताया है। कहा गया कि राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाकर प्रदेश को विकास के पथ पर अग्रसर किया है। पिछली सरकार के पांच साल में जितने ट्रांसफॉर्मर नहीं बदले गए उससे कहीं अधिक छह महीने की योगी सरकार ने बदल दिए।
कार्यसमिति के बाद पीएसआईटी में पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में 1.21 लाख किलोमीटर गड्ढायुक्त सड़कें विरासत में मिली थीं। राज्य सरकार ने अभियान चलाकर 80 हजार किलोमीटर से ज्यादा सड़कें गड्ढामुक्त कर दी हैं। प्रदेश सरकार ने एक और रिकॉर्ड बनाया है। गन्ना किसानों के बकाए का 96 फीसदी भुगतान कर दिया है। लंबे समय से बंद सात चीनी मिलें चालू कराई हैं। प्रदेश में 20 नए कृषि विज्ञान केंद्र खुलेंगे। महाराष्ट्र जैसे राज्य यह पता लगाने में जुट गए हैं कि यूपी सरकार ने यह सब इतन कम समय में कैसे किया। महाराष्ट्र के गन्ना विकास मंत्री अगले सप्ताह उत्तर प्रदेश के दौरे पर आ रहे हैं।
सबसे ज्यादा राजस्व देने वाला राज्य बना यूपी
महेंद्रनाथ पांडेय ने कहा कि जीएसटी लागू होने के बाद उत्तर प्रदेश सबसे ज्यादा राजस्व वाला राज्य बन गया है। अगस्त महीने के राजस्व में 33.6 फीसदी की रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की गई है। केंद्र सरकार ने जीएसटी के प्राविधान सरल कर छोटे व्यापारियों सहित लाखों लोगों को दीपावली का उपहार दिया है।
कानपुर के साथ झांसी में भी मेट्रो
प्रदेश अध्यक्ष ने राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना का संचालन शुरू कर दिया गया है। इसके साथ ही कानपुर, झांसी, वाराणसी, आगरा, इलाहाबाद, गोरखपुर और मेरठ में मेट्रो ट्रांसपोर्ट योजना तैयार की है। सभी मंडल मुख्यालय को हवाई सेवा से जोड़ने पर काम चल रहा है। जेवर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाया जा रहा है।
पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वदेश दर्शन योजना, प्रसादा योजना के अलावा पर्यटन विकास परियोजना शुरू की गई है। कैलाश मान सरोवर यात्रा भवन का गाजियाबाद में शिलान्यास के साथ कैलाश मानसरोवर यात्रियों को एक लाख रुपए की सहायता प्रदान की जा रही है।
पेट्रोल-डीजल पर टैक्स घटाने पर विचार
एक सवाल के जवाब में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर वैट दरें कम करने के केंद्र के प्रस्ताव को राज्य सरकार ने संज्ञान में लिया है। उन्होंने सीधे तौर पर तो नहीं कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों पर वैट दरें कम होंगी लेकिन संकेत जरूर दिया कि राज्य सरकार इस पर गंभीरता से विचार कर रही है। पिछले दिनों पेट्रोलियम मंत्री ने राज्य सरकारों को वैट कम करके पेट्रोल की कीमतें नीचे लाने का सुझाव दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:good governance begins
चार साल बाद कानपुर की धरती से भाजपा का फिर विजय शंखनादभाजप का मिशन चुनावः विकास ज्योति यात्रा और हर हाथ में रोजगार की रणनीति