class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्यार को पाने में कामयाब हो ही गई रिवाल्वर रानी, पहनेगी लाल जोड़ा

बर्षा साहू की बेबाक बोल के अागे बेबस हो गया अशोक यादव।

1/3प्यार को पाने में कामयाब हो ही गई रिवाल्वर रानी, पहनेगी लाल जोड़ा

हमीरपुर में विवाह स्थल से दूल्हे को तमंचे के बल पर उठाने वाली रिवाल्वर रानी आखिरकार जीत ही गई। 15 मई से चल रहे हाई वोल्टेज ड्रामे का शुक्रवार को समझौते के बाद पटाक्षेप हो गया। अब रिवाल्वर रानी लाल जोड़ा पहनेगी अौर मांग में सिंदूर भरेगा दूल्हा अशोक। हालांकि इससे पहले अशोक को शादी वाले परिवार को हुए नुकसान की भी भरपाई करनी होगी वरना दहेज उत्पीड़न का मुकदमा झेलना होगा।

बांदा जनपद के थाना मटौंध के मोहनपुरवा निवासी अशोक यादव की 15 मई को मौदहा कोतवाली के भवानी गांव बारात आई थी। जयमाला के बाद अचानक प्रकट हुई अशोक की दबंग प्रेमिका उसे तमंचे के बल पर उठा ले गई थी। 17 मई की शाम को मौदहा और बांदा पुलिस ने पहले दबंग प्रेमिका वर्षा साहू और फिर अशोक को खोज निकाला। यहां वर्षा की बेबाकी के जवाब में अशोक केवल आंसू बहाकर खुद को मासूम साबित करने की कोशिश करता रहा।

अंतत: चारों तरफ से दबाव और खुद को फंसता देख अशोक ने वर्षा से शादी के लिए हामी भर दी। वर्षा को भी यही चाहिए था, दोनों पक्षों में समझौता होने के बाद शुक्रवार को पुलिस वर्षा को अपहरण के मामले में क्लीन चिट देने के लिए अशोक को कोर्ट में बयान दर्ज कराने को ले गई, हालांकि देरी की वजह से बयान नहीं हो सके। अब शनिवार को बयान दर्ज होंगे।

दूसरी तरफ पुलिस इस प्रकरण में भवानी गांव के रामसजीवन यादव को हुए नुकसान की भरपाई कराने में भी जुटी हुई है ताकि शादी के नाम पर उन्होंने जो भी कुछ खर्च किया है वह उन्हें मिल जाए। ऐसा नहीं हुआ तो रामसजीवन की दो दिन पूर्व दी गई तहरीर के आधार पर अशोक के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा हो सकता है।

Next