class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजप का मिशन चुनावः विकास ज्योति यात्रा और हर हाथ में रोजगार की रणनीति

भाजपा प्रदेश कार्यसमिति।

भाजपा की प्रांतीय कार्यसमिति में नगर निगम, निकाय, सहकारिता और लोकसभा चुनाव में कमल खिलाने की रणनीति तैयार हुई। सर्वसम्मति से तय हुआ कि पार्टी कार्यकर्ता दिवाली के पहले घर-घर आमजन से विकास ज्योति यात्रा निकालेंगे। सरकार के समन्वय से एक जिला-एक उत्पाद से कुटीर और लघु उद्योग विकसित कराए जाएंगे। इससे गांव से लेकर शहर तक हर बेरोजगार के हाथ में काम होगा। इन्हीं योजनाओं के बूते नगर निकाय, सहकारिता और लोकसभा चुनाव की शत-प्रतिशत सीटों पर कमल खिलाने का संकल्प भी लिया गया।
 चुनाव के दौरान आमजन को पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी की उपलब्धियों को बताएंगे। इसके जरिए जिले संगठन और मंडल कार्यसमितियों का भी ऐलान किया गया। यूपी में सभी जिला संगठन की कार्यसमिति 16 तो मंडल की 22 अक्तूबर को एक साथ होंगी। कार्यसमिति में तय हुआ कि पार्टी की जिला इकाई एक बार फिर बूथ कमेटियों को रिव्यू करे ताकि कहीं पर कोई खामी रह गई हो तो उसे समय रहते पूरा कर लिया जाए। तय हुआ कि निकाय चुनाव तो समय पर होंगे पर इसके तत्काल बाद सहकारिता के चुनाव होने हैं। इस कारण सहकारी समिति सेक्टरों में कमेटियां गठित करने के साथ ही उनका रिव्यू किया जाए। इन चुनावों को अबकी बार पार्टी जीतने की मंशा से लड़ेगी। इसका सीधा असर लोकसभा चुनाव में होगा। सहकारी समितियों में सपा के वर्चस्व को किसी तरह कम किया जाए और इसके लिए अधिक से अधिक सदस्य बनाए जाएं।
में संगठन और सरकार के बीच समन्वय बनाए रखने के लिए कार्यसमिति में तय हुआ कि हर एक जिम्मेदार अपनी बात निर्धारित प्लेटफार्म पर रखे। अब तो हर काम के प्रति हर एक जिम्मेदार की जवाबदेही है। स्किल इंडिया हो या फिर एक जिला एक प्रोडक्ट से लोगों को रोजगार तो मिलेगा ही, साथ यूपी देश का माडल साबित होगा। कानपुर फिर औद्योगिक स्वरूप को इसी योजना के जरिए जाना जाएगा तो वाराणसी सिल्क साड़ियों के लिए। मुरादाबाद पीतल के लिए तो अलीगढ़ तालों के लिए। 
अयोध्या में दिवाली मनाएगी प्रदेश सरकार
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय और सीएम आदित्यनाथ योगी ने कहा कि यूपी में कोई 14 साल बाद भाजपा पूर्ण बहुमत से काबिज हुई है। इसके उपलक्ष्य में जिस तरह भगवान राम रावण का वध करके वापस अयोध्या आए थे तो दिवाली मनाई गई थी। इसी तरह भाजपा पूर्व सरकारों के अत्याचारों का वध करके काबिज हुई तो सीएम और पूरी कैबिनेट छोटी दिवाली के दिन अयोध्या में उत्सव मनाएगी। रामलला मंदिर का मामला अदालत में विचाराधीन है। वहीं पर भाजपा का उत्सव कई तरह से संकेत दे रहा है। पार्टीजनों ने इन मामलों को सीधे पार्टी के हिन्दू एजेंडे वाला बताया। साथ ही अयोध्या में उत्सव होने से राममंदिर मामला भी ताजा हो गया।  
लोकसभा चुनाव का रिहर्सल है निकाय, सहकारिता चुनाव
भाजपा के प्रदेश प्रभारी और राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री शिवप्रकाश ने संगठन को ऊर्जावान बताते हुए कहा कि जनता के सहयोग और कार्यकर्ताओं की मेहनत की वजह से पहले लोकसभा फिर विधानसभा चुनाव प्रचंड बहुमत से जीता गया। हाल में प्रस्तावित नगर निकाय और सहकारिता के चुनाव एक तरह से लोकसभा चुनाव का रिहर्सल है। इस कारण हर कार्यकर्ता आगामी प्रोगामों पर शत-प्रतिशत अमल करके जनता से नाता जोड़ें। जनता को लाभकारी योजनाओं को बताने के साथ ही उनका दुख-दर्द सुने और त्वरित निस्तारण करवाएं। 
कार्यकर्ताओं का सम्मान बरकरार है, बशर्ते तय फोरम पर रखें बात
भाजपा कार्यसमिति बैठक में पार्टीजनों ने पीड़ा रखी कि उनकी बातों को प्रशासनिक अफसर तवज्जो नहीं देते हैं। इस पर सीएम ने बड़े सहज भाव से कहा कि कार्यकर्ता संगठन की नींव होता है। इसकी वजह से हर कार्यकर्ता का सम्मान बरकरार रखने में कोई चूक सरकार स्तर से नहीं होगी। इसके लिए कार्यकर्ता तय फोरम पर अपनी बात रखें और उसका निस्तारण होगा। इसके लिए मंत्रियों के दो दिन लखनऊ में तय  किए जा चुके हैं।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP Mission Election: Development Jyoti Yatra and Employment Tactics in Every Hands
कुशासन खत्म, सुशासन का दौर शुरू : डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय मुख्यमंत्री बोलेः कानपुर के विकास को लगेंगे पंख