class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीए करके नौकरी तलाश रहा था नहीं मिली तो दे दी जान

नौकरी न मिलने से अवसाद में आए एक युवक ने गुरुवार को ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी। बेरोजगारी को लेकर वह अवसाद में था और नौकरी की तलाश कर रहा था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

खोराबार थाना क्षेत्र के भगता चौराहा निवासी शम्भू यादव का बेटा धर्मवीर यादव बीए करने के बाद प्रतियोगी परिक्षाओं की तैयारी करने लगा। उसे नौकरी की तलाश थी लेकिन नौकरी नहीं मिल रही थी। उसके बाद से वह अवसाद में रहता था। चिलुआताल थाना क्षेत्र के जगतवेला रेलवे स्टेशन से दो किमी पूरब बगहवा रेलवे गेट के पास ट्रेन से कट कर उसने जान दे दी। युवक के पास मिले सामानों के आधार पर उसकी पहचान हुई। रेलवे ट्रैक पर लाश देख राहगीरों ने चिलुआताल पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसके घरवालों को सूचना दी।  

मौके पर पहुंचे परिवारीजनों ने बताया कि  धर्मवीर बीए करने के बाद नौकरी की तलाश में लगा रहा लेकिन सफलता नहीं मिली। उसने कई परीक्षाएं दी। वह सरकारी के अलावा प्राइवेट नौकरी की भी तलाश कर रहा था। पर हर जगह से निराशा मिलने पर वह अवसाद में रहने लगा था।  धर्मवीर के पिता शम्भू की दो शादियां हुई है। पहली पत्नी से धर्मवीर व संदीप हैं। दूसरी पत्नी से भी तीन बच्चे हैं। 


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Youth suicide because not succeeded in getting job
संवेदनहीनता: तरकुलहा मेले में मां को छोड़कर चला गया बेटापूरे परिवार ने मिलकर ली 70 साल की बुजुर्ग महिला की जान