class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अस्पताल में आई थी इलाज कराने, चोरों ने बना दिया कंगाल  

देवरिया। हिन्दुस्तान टीम 

पुत्र -पुत्री और मां का इलाज कराने आई महिला का पर्स उच्क्कों ने उड़ा दिया। महिला रुपये के लिए पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों से गुहार लगाती रही, लेकिन उसकी किसी ने नहीं सुनी। उसके पास घर जाने तक का किराया नहीं बचा था। मजबूरी में उसने अपनी पायल गिरवी कुछ रुपए इकठ्ठा किए और फिर घर जा सकी। 

भलुअनी थाना क्षेत्र के सोनाड़ी गांव की रहने वाली सुनिता देवी पत्नी पुजारी राजभर की मां ज्ञांती देवी, बेटे आदित्य और बेटी नेहा की तबीयत खराब चल रही थी। सोमवार को वह सभी का इलाज कराने के लिए जिला अस्पताल आई थी। पर्ची लेने के बाद कमरा नम्बर 12 में बच्चों को दिखाने के लिए अपनी बारी का इंतजार करने लगी। इसी बीच किसी ने उनका पर्स उड़ा दिया।

इसकी जानकारी होते ही महिला जोर-जोर से रोने लगी, यह देख उसके बच्चे भी रोने लगे। आस पास  लोगों की भीड़ जुट गई। कुछ लोग महिला को लेकर इमरजेंसी के पुलिस चौकी पहुंचे, जहां महिला ने पर्स चोरी होने की बात कही। इसके बाद पुलिस ने बरामदे में इधर उधर लोगों से पूछताछ की। महिला के पर्स में मां की जांच रिपोर्ट, तीन हजार रुपये और मोबाइल था। पर्स गायब होने से उसके पास किराए तक के पैसे नहीं बचे थे। मजबूरी में उसने शहर के एक सर्राफ के यहां अपनी पायल गिरवी रख कर किराए के पैसे जुगाडे़ और फिर बच्चों और मां के साथ वापस अपने घर गई। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Thief stolen all the rupees from Woman
पुलिस को चकमा देकर थाने से भाग गया आरोपितजरा से झगड़े में युवक को बेतहाशा पीटा, गांव में लगी फोर्स