class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रांसफार्मर जलने पर देखिए महराजगंज में जेई के साथ क्या किया  

सीमावर्ती गांव बरगदवा में एक माह में चार बार ट्रांसफार्मर जलने से ग्रामीणों ने मंगलवार को बिजली विभाग के जेई को बंधक बना लिया। करीब एक घंटे बाद अधिशासी अभियंता के गांव में दो ट्रांसफार्मर लगाने के आश्वासन के बाद उन्हें छोड़ा।    बरगदवा गांव में 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगाया गया है। लेकिन एक माह के भीतर चार बार जल गया। जब-जब ट्रांसफार्मर जला लोगों ने इसकी शिकायत बिजली विभाग के जेई व अधिकारियों से की। लेकिन हर बार ट्रांसफार्मर के मामले में जिम्मेदार चुप्पी साध जाते। इससे ग्रामीणों में आक्रोश था। मंगलवार को जेई शंभूनाथ चौधरी गांव में ट्रांसफार्मर की जांच के लिए पहुंचे। इस पर ग्रामीणों ने उन्हें घेर कर बैठा लिया। बंधक बनाकर पूछताछ करने लगे। ग्रामीणों ने कहा कि हर बार ट्रांसफार्मर क्यों जलता है। कम गुणवत्ता वाले ट्रांसफार्मर को लगाकर ग्रामीणों को क्यों धोखा देते हैं।   इसपर जेई ने बताया कि ओवरलोडिंग के कारण ट्रांसफार्मर जल रहा है। इसपर ग्रामीण 250 केवीए का ट्रांसफार्मर लगवाने की मांग करने लगे। चेताया कि जब तक नया ट्रांसफार्मर नहीं लगता जेई को जाने नहीं देंगे। इसपर जेई ने अधिशासी अभियंता से बात की तो उन्होंने आश्वासन दिया कि 250 केवी का ट्रांसफार्मर नहीं लग सकता है। गांव में 100 केवी का दो ट्रांसफार्मर लगा दिया जाएगा। करीब एक घंटे की जद्दोजहद के बाद ग्रामीणों ने जेई को छोड़ा।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Protest against JE of electricity department in Maharajganj
कुशीनगर में आक्रोशित ग्रामीणों ने सफाई कर्मियों को घंटों बनाया बंधकबाढ़ में बहकर नेपाल से कुशीनगर चला आया गैंडा, रेस्‍क्‍यू टीम ने ऐसे बचाया