class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर दिन 55 से 60 ट्रांसफार्मर जलने से बिजली को लेकर हाहाकार

ग्रामीण क्षेत्र में  हर दिन 55 से 60 ट्रासंफार्मर दगने से सैकड़ों गांव के लोग बिजली सुविधा से वंचित हैं। ओवरलोड व अन्य कारणों से ट्रांसफार्मर जलने से ग्रामीण गर्मी और उमस से बेहाल हैं। विद्युत निगम के स्टोर में ट्रांसफार्मर उपलब्ध नहीं है।

रिपयेरिंग वर्कशॉप में हर दिन 25 से 30 ट्रांसफार्मर ही तैयार हो पा रहे हैं। विभिन्न क्षमता के 250 ट्रांसफार्मर एकमुश्त मिले तब हजारों ग्रामीणों को राहत मिलेगी। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्र में बिजली आपूर्ति के बावजूद लोग बिजली संकट से झेल रहे हैं।

खास-खास
विभिन्न क्षमता के 250 ट्रांसफार्मर एक साथ मिले तब बनेगी बात
वर्कशॉप में हर दिन तैयार हो रहे 20 से 30 ट्रांसफार्मर
आवश्यकता के मुताबिक वर्कशॉप नहीं तैयार कर पा रहा ट्रांसफार्मर

पावर कारपोरेशन के निर्देश के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र में जले ट्रासंफार्मर 48 घण्टे में और शहरी क्षेत्र में 24 घण्टे में बदले जाने हैं। इस व्यवस्था को अमल में लाने की जिम्मेदारी वर्कशॉप की है। वर्कशाप के एक्सईएन कहते हैं कि मौसम में परिवर्तन के कारण ग्रामीण क्षेत्र में ट्रांसफार्मरों के जलने का औसत ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। रोजाना 55 से 60 ट्रांसफार्मर ओवरलोड व अन्य कारणो से जल रहे हैं। जबकि वर्कशाप में 25 से 30 ट्रांसफार्मर ही तैयार हो पा रहे हैं। ट्रांसफार्मरों की मांग और आपूर्ति में इस बड़े अंतर की वजह से ही बिजली की विकट समस्या खड़ी हो गई है।

सीएम के कॉलेज का ट्रांसफार्मर नहीं बदलने पर एसडीओ-जेई सस्पेंड

नम्बर लगाकर बदले जा रहे ट्रांसफार्मर
ग्रामीण क्षेत्र में जले ट्रांसफार्मर को बदलने के लिए नम्बर लगाया जा रहा है। वर्कशॉप में ट्रांसफार्मर तैयार होने के बाद रजिस्टर में दर्ज नम्बर के मुताबिक संबंधित गांव में ट्रांसफार्मर भेजा जा रहा है। एक्सईएन वर्कशॉप एम के गौड़ कहते हैं कि ग्रामीण यदि ट्रांसफार्मर जलने की सूचना देने में देर करेंगे तो रजिस्टर में नाम भी उसी मुताबिक दर्ज होगा। पहले सूचना देने वाले गांव में उपलब्धता के आधार पर ट्रांसफार्मर भेजा जा रहा है। उधर, मिर्जापुर स्टोर से आवंटित 40 ट्रांसफार्मर भी सोमवार की शाम तक स्टोर में नहीं आए। अधिकारी गाड़ी आने का इंतजार करते रहे।

‘‘ग्रामीण क्षेत्र में ट्रांसफार्मर अधिक जलने से बिजली संकट खड़ा हो गया है। हमलोग ट्रांसफार्मर बदलने का प्रयास कर रहे हैं। मुख्यालय से एकमुश्त ट्रांसफार्मर मिले और ट्रांसफार्मरों के जलने में कमी आए तो स्थित सामान्य होगी।’’
ई. एमके गौड़, अधिशासी अभियंता वर्कशॉप

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Everyday 55 to 60 Transformer burns electricity
प्रसव के बाद बच्चे की मौत, महिला अस्पताल में हंगामा सीएम के कॉलेज का ट्रांसफार्मर नहीं बदलने पर एसडीओ-जेई सस्पेंड