class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गृहमंत्रालय के निर्देश पर शुरू हुई मदरसों की जांच

देवरिया जिले में संचालित मदरसों की जांच शुरु हो गई है। शुक्रवार को रामपुर कारखाना के आधा दर्जन से अधिक मदरसों की जांच हुई। प्रदेश सरकार गृह मंत्रालय के निर्देश पर मदरसों की जांच करा रही है। जांच शुरू होने से मदरसा संचालकों में हड़कंप है। केन्द्र सरकार ने चल रहे सभी मदरसों की जांच कराने का निर्णय था। इसके लिए गृह मंत्रायल ने प्रदेश सरकार को पत्र लिखा। उसी क्रम में मदरसों की जांच करने के लिए अधिकारियों की टीम देवरिया में पहुंच चुकी है। प्रत्येक सदस्य को तीन थाना क्षेत्र के मदरसों की जांच करना है। शुक्रवार को कुशीनगर जनपद में तैनात उमेश पाण्डेय रामपुर कारखाना पहुंचे और मदरसों की जांच शुरु कर दी। इसकी जानकारी मिलते ही मदरसा संचालकों में खलबली बच गई। टीम के सदस्य मदरसे के संचालक, प्रधानाचार्य, शिक्षक के मोबाइल नम्बर के साथ उनके बारे में पूरा ब्यौरा एकत्र कर रहे हैं। मदरसे के भौतिक सत्यापन कर रिपोर्ट अधिकारियों को सौंपनी है। इसके साथ ही मदरसे में मौजूद छात्रों की और साइन बोर्ड की फोटो खिंचना है। मान्यता प्राप्त मदरसों में तीन तीन आधुनिक शिक्षकों को तैनात किया गया है। जिन्हें केन्द्र सरकार द्वारा अनुदान दिया जाता है। जो पिछले दो वर्ष से नहीं मिला है। जांच रिपोर्ट के आधार पर ही मानदेय के भुगतान की उम्मीद मदरसो के संचालकों में जगी है।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Enquiry starts in Madarsa's in Deoria
कागज की गड्डी थमा 25 हजार ले उड़े टप्पेबाजपानी निकलना बंद हुआ तो गांववालों ने लगा दिया जाम