class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मीडिया से बेहद नाराज दिखे सीएम योगी, बोले- फेक रिपोर्टिंग से रहे दूर

गोरखपुर मेडिकल कालेज में ऑक्‍सीजन की कमी से 33 बच्‍चों की मौत के बाद चौतरफा आलोचना के बीच सीएम योगी आदित्‍यनाथ गोरखपुर में भावुक हो गये। मेडिकल कालेज में प्रेस कांफ्रेन्‍स को सम्‍बोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि बच्‍चों के प्रति उनसे ज्‍यादा संवेदना किसी की नहीं है। 

उन्‍होंने कहा कि ऑक्‍सीजन सप्‍लाई रोके जाने के मामले की पूरी जांच होगी। जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्‍त से सख्‍त कार्रवाई की जायेगी। सीएम योगी ने मीडिया को चैलेंज करते हुए कहा कि वह सही रिपोर्ट करे। सारे अस्‍पताल, सीएचसी, पीएचसी पर मीडिया चेक करे कि सारे इंतजाम ठीक हैं कि नहीं। फिर रिपोर्ट करे।

उन्‍होंने कहा कि सीएम बनने के बाद वह चौथी बार बीआरडी मेडिकल कालेज आये हैं। इंसेफेलाइटिस के खिलाफ 1996-97 से लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्‍होंने नौ अगस्‍त को बीआरडी मेडिकल कालेज के दौरे का विस्‍तार से विवरण दिया। बताया कि ऑक्‍सीजन सप्‍लाई मामले की जांच के लिए चीफ सेक्रेटरी की अध्‍यक्षता में हाईलेवल कमेटी बना दी गई है। वह सभी मौतों की जांच कर रहे हैं। रिपोर्ट पर सख्‍त कार्रवाई की जायेगी। जो भी दोषी होगा उसे बख्‍शा नहीं जायेगा। कड़ी कार्रवाई मानक बनेगी।

प्रेस कांफ्रेन्‍स में मौजूद केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जे.पी.नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी इस मामले की लगातार जानकारी ले रहे हैं। जेई-एईएस के रोगियों के उपचार के तरीकों की उच्‍चस्‍तरीय मानीटरिंग कराई जा रही है। कई उच्‍च अधिकारी यहां कैंप कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि सीएम योगी आदित्‍यनाथ खुद जेई-एईएस को लेकर बहुत सतर्क हैं। व्‍यक्तिगत स्‍तर पर प्रयासरत रहते हैं। उन्‍होंने कहा कि सरकार ने यहां रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर के निर्माण को हरी झंडी दी जिस पर 85 करोड़ रुपए खर्च होंगे। यहां कई सुविधायें मिलने जा रही हैं। 

गुलाम नबी को सीएम ने दिया ये जवाब
राज्‍यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद के आरोपों का जवाब देते हुए सीएम योगी‍ आदित्‍यनाथ ने कहा कि मंत्री रहते उन्‍होंने हाथ खड़ा कर दिया था। आज किस मुंह से संवेदनशीलता की बात कर रहे हैं।

मीडिया से बेहद नाराज दिखे सीएम 
सीएम योगी पूरी प्रेस कांफ्रेन्‍स के दौरान मीडिया से बेहद नाराज दिखे। उन्‍होंने बार-बार  मीडिया को फेक रिपोर्टिंग से बचने की हिदायत दी। इसके साथ ही दोहराया कि बच्‍चों की मौत मामले में यदि कोई दोषी पाया गया तो कार्रवाई जरूर होगी। उन्‍होंने ऑक्‍सीजन की कमी से मौतों को एक बार फिर सिरे से नकार दिया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Cm become emotional at Press conference on Gorakhpur Medical College mishap
संतकबीरनगर में पेड़ से लटकी मिली युवती की लाश, लम्‍बे समय से रहती थी अकेलीमेडिकल कालेज पहुंचते ही फफक पड़े सीएम योगी, साथ में हैं जे.पी.नड्डा