class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेप के आरोपित पूर्व कैबिनेट मंत्री को गायत्री प्रजापति को जमानत देने की जांच तेज

gayatri prajapati

यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति की रेप के मामले में जमानत मंजूर किए जाने की जांच अभी जारी है। इस मामले में हाईकोर्ट के न्यायाधीश मंगलवार व बुधवार को अपनी जांच आगे बढ़ाएंगे। वह पहले भी इस मामले में कई बार जांच कर चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक जांच प्रक्रिया को आगे बढ़ाते हुए वह अगले दो दिन (20 व 21 जून) के लिए फिर लखनऊ पहुंच रहे हैं।

रजिस्ट्रार जनरल ने बताया कि हाईकोर्ट प्रशासन की ओर से प्रकरण की जांच अभी जारी है। उन्होंने कहा कि जांच गोपनीय है और उसमें क्या हुआ, इस बारे में उन्हें फिलहाल कुछ जानकारी नहीं है। खुफिया एजेंसी की जांच व उसकी रिपोर्ट पर भी कोई टिप्पणी करने से उन्होंने इनकार कर दिया। 

गौरतलब है कि सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे गायत्री प्रजापति के खिलाफ रेप के मामले में सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद यूपी पुलिस ने 17 फरवरी 2017 को एफआईआर दर्ज की और 15 मार्च को प्रजापति को गिरफ्तार कर लिया था। 24 अप्रैल को उन्होंने ओपी मिश्र की अदालत में जमानत की अर्जी दाखिल की और मामले की जांच जारी रहने के बावजूद उनकी जमानत मंजूर कर ली गई। हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने प्रजापति की जमानत मंजूर होने की जांच के आदेश दिए थे। साथ ही यह आदेश करने वाले एडीजे ओपी मिश्र को निलंबित कर दिया गया था। 

सूत्र बताते हैं कि एक खुफिया एजेंसी की जांच में सामने आया है कि गायत्री प्रजापति की जमानत साजिश रचकर मंजूर कराई गई थी, जिसमें एक जज की भूमिका की भी जांच की जा रही है। इस मामले में एक जिला जज से पूछताछ हो चुकी है। सूत्रों की मानें तो उन्हें पदोन्नत कर हाईकोर्ट में नियुक्त किया जाना था लेकिन इस मामले के सामने आने के बाद सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने उनका नाम वापस कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Gayatri Prajapati's bail plea continues on inspection