class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेटीएम ने जारी किया रुपे डेबिट कार्ड, खाते भी खुलेंगे

paytm

मोबाइल वॉलेट एप पेटीएम बैंकिंग की राह पर आगे बढ़ गया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से लाइसेंस मिलने के बाद तेजी से बैंकिंग सुविधा मुहैया कराने की दिशा में कदम बढ़ाए हैं। हाल ही में पेटीएम प्रबंधन की ओर से रुपे डेबिट कार्ड जारी किया गया है। एक सामान्य खाताधारक के लिए, जबकि दूसरा कारोबारियों के लिए कार्ड जारी किया गया है। खाते खोलने की प्रक्रिया भी तेजी से चलाई जा रही है। अब तक पेटीएम मोबाइल वॉलेट के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा था। इसमें आने वाली धनराशि को बैंक खातों में ट्रांसफर करना पड़ता था।

वॉलेट में रखे रुपये पर ब्याज मिलना तो दूर उल्टा ट्रांसफर का चार्ज उपभोक्ताओं को देना पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। पेटीएम वॉलेट यूजर अपना पेटीएम खाता खुलवा सकेंगे। इसके लिए उन्हें सिर्फ एक रिक्वेस्ट दिए गए ऑपशन पर करना होगी। इसके बाद पेटीएम टीम स्वयं ही संपर्क करेगी। लेकिन इससे पहले उपभोक्ताओं को आधार से लिंक कराना होगा।

केवाईसी होने के बाद उन्हें एकाउंट नंबर के साथ रुपे डेबिट कार्ड भी मिल जाएगा। पेटीएम पीआरओ शुभम गौर ने बताया कि आरबीआई की गाइड लाइन पर अमल करते हुए बैंकिंग शुरू कर दी है। पेटीएम पूरी तरह से भारतीय है। इसके एमडी विजयशेखर शर्मा द्वारा पेटीएम का रुपे डेबिट कार्ड जारी किया गया है। इसमें एक सामान्य उपभोक्ताओं के लिए जबकि दूसरा कारोबारियों के लिए है।

सामान्य उपभोक्ता इसका इस्तेमाल किसी भी मशीन, एटीएम में आसानी से कर सकेंगे। जल्द ही रुपये के लेनदेन के लिए इंतजाम किए जा रहे हैं। पांच को आ सकते हैं पेटीएम एमडी अलीगढ़। पेटीएम पीआरओ शुभम गौर ने बताया कि एमडी विजय शेखर शर्मा पांच अक्टूबर को अलीगढ़ आ सकते हैं।

यहां हरदुआगंज स्थित इंटर कॉलेज में उनके पिता की स्मृति में 51 लाख रुपये की लागत से बनाए जा रहे हॉल का लोकार्पण प्रस्तावित है। पांच को ही कॉलेज का स्थापना दिवस भी है। कॉलेज प्रबंधन ने बतौर मुख्य अतिथि बुलाने के लिए संपर्क किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rupee debit cards and accounts will also be opened.
सदमे में प्रधान, विरोधियों ने ठोक दी पार्षद की दावेदारीएएमयू में नर्सिंग स्कूल को नर्सिंग कॉलेज बनाने पर लगी मुहर