मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 19:37 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
यूपीः कांवड़ यात्रा में डीजे पर प्रतिबंध लगाये जाने के विरोध में मंगलवार देर शाम दससराय पुलिस चौकी के सामने हिंदू संगठनों ने जाम लगाकर नगर विकास मंत्री आजम का पुतला फूंका।
तरक्की
धर्मक्षेत्रे
अभिषेक प्रिय शिव का माह
श्रावण या सावन भगवान शिव का सबसे प्रिय माह है। भगवान शिव को अभिषेक बहुत प्रिय है और ऐसा प्रतीत होता है कि प्रकृति ने इस माह में वर्षा का विधान शिव-अभिषेक के लिए ही किया है।  04:25 PM
सप्ताह के व्रत-त्योहार (4 अगस्त से 10 अगस्त तक)
4 अगस्त (मंगलवार) भौम व्रत। नाग पंचमी (बंगाल एवं मरुस्थल)। पंचक जारी है। गौरी-दुर्गा पूजा। संकटमोचन, दुर्गा जी मेला काशी में। बुध मघा नक्षत्र सिंह राशि में सायं 6 बज कर 18 मिनट पर। 01:04 AM
हरिशयन की बेला चातुर्मास
चातुर्मास्य सुनते ही उन सभी साधु-संतों का ध्यान आ जाता है, जो आषाढ़ शुक्ल एकादशी (जिसे देवशयनी एकादशी कहते हैं) के साथ चार महीनों अर्थात श्रावण, भाद्रपद, आश्विन और कार्तिक की शुक्ल एकादशी (जिसे देवउठावनी या देवोत्थान एकादशी कहते हैं) तक एक ही स्थान पर रह कर वहां के नागरिकों को अनुभव सहित ज्ञान उपलब्ध करा कर सत्य पर आधारित जीवन जीने की प्रेरणा देते हैं।  01:04 AM
 
धर्मक्षेत्रे
श्रावण या सावन भगवान शिव का सबसे प्रिय माह है। भगवान शिव को अभिषेक बहुत प्रिय है और ऐसा प्रतीत होता है कि प्रकृति ने इस माह में वर्षा का विधान शिव-अभिषेक के लिए ही किया है।
 
सूफीमत परम्परा में जब किसी सूफी संत, दरवेश या पीर की मृत्यु हो जाती है तो उसे विसाल कहते हैं। सूफी संतों के गुजरने पर साधारण शब्द मृत्यु का प्रयोग नहीं किया जाता।
 
कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन राहुल गांधी ने कहा कि व्यापमं ने मध्यप्रदेश में हजारों लोगों के भविष्य को बर्बाद कर   दिया है। इस बात के स्पष्ट साक्ष्य हैं कि सुषमाजी ने नियमों को तोड़ा है। राजस्थान की   मुख्यमंत्री (वसुंधरा राजे) की ललित मोदी के साथ वित्तीय संलिप्तता के स्पष्ट साक्ष्य हैं।   उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को देश के मन की बात सुननी चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि व्यापमं ने मध्यप्रदेश में हजारों लोगों के भविष्य को बर्बाद कर दिया है। इस बात के स्पष्ट साक्ष्य हैं कि सुषमाजी ने नियमों को तोड़ा है। राजस्थान की मुख्यमंत्री (वसुंधरा राजे) की ललित मोदी के साथ वित्तीय संलिप्तता के स्पष्ट साक्ष्य हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को देश के मन की बात सुननी चाहिए। अन्य फोटो
शब्द
मेरे लिहाज से भीष्म साहनी हिन्दुस्तानी लिटरेचर की दुनिया में एक महान साहित्यकार का दर्जा रखते हैं। मैं उनकी कहानियों और उपन्यासों का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। खासतौर पर भारत-पाक विभाजन की पृष्ठभूमि पर लिखा गया उनका कालजयी उपन्यास 'तमस' मैंने कई-कई बार पढ़ा है।
 
पंजाबी भाषा के मशहूर उपन्यासकार रामसरूप अणखी की अखिल भारतीय ख्याति का आधार है उनका उपन्यास 'कोठे खड़क सिंह'। हिंदी में इसका अनुवाद 'कहानी एक गांव की' नाम से हुआ था। 'दुल्ले की ढाब' का कथाफलक भी ग्रामीण जीवन पर आधारित है।
 
सर्वाधिक पढ़ी
गई ख़बरें
सर्वाधिक पसंद
की गई ख़बरें
सर्वाधिक पसंद
की गई तस्वीरे
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें
आज का मौसम
अपना शहर चुने  
मंगलवार, 04 अगस्त, 2015
41°
अधिकतम 
 |  33°
न्यूनतम