Image Loading month season winter - Hindustan
रविवार, 23 अप्रैल, 2017 | 19:21 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • योगी का आदेश: ब्लॉक स्तर तक लगे बायोमेट्रिक प्रणाली के जरिए हाजिरी, पढ़ें...
  • IPL10 #GLvKXIP: 12 ओवर के बाद गुजरात का स्कोर 95/4, जडेजा-रैना आउट। लाइव कमेंट्री और...
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े देश और दुनिया की अब तक की बड़ी खबरें
  • IPL10 #GLvKXIP: 6 ओवर के बाद गुजरात का स्कोर 50/2, मैकुलम-फिंच आउट। लाइव कमेंट्री और...
  • IPL10 #GLvKXIP: पंजाब ने गुजरात के सामने रखा 189 रनों का टारगेट, अमला की एक और शानदार पारी
  • IPL10 #GLvKXIP: 15 ओवर के बाद पंजाब का स्कोर 135/4, अमला-मैक्सवेल आउट। लाइव कमेंट्री और...
  • IPL10 #GLvKXIP: 10 ओवर के बाद पंजाब का स्कोर 88/1, अमला की फिफ्टी। लाइव कमेंट्री और स्कोरकार्ड...
  • IPL10 #GLvKXIP: 5 ओवर के बाद पंजाब का स्कोर 36/1, क्रीज पर अमला-मार्श। लाइव कमेंट्री और...
  • कभी मैदान पर ही भिड़े थे गंभीर-विराट, आज फिर होगी 'जंग', पढ़ें क्रिकेट और अन्य खेल...
  • IPL10 #GLvKXIP: गुजरात ने जीता टॉस, पहले फील्डिंग करने का लिया फैसला
  • बॉलीवुड मिक्स: तो क्या सच में यूलिया की वजह से सलमान से दूरी बना रही हैं कैटरीना!...
  • टीवी गॉसिप: क्रिकेट छोड़ भज्जी ने किया पोल डांस। कपिल ने सुनील को कहा थैंक्स।...
  • नवी मुंबई: कार शोरूम में आग लगाने से दो लोगों की मौत
  • टॉप 10 न्यूज़: विडियो में देखें देश और दुनिया की अभी तक की बड़ी खबरें
  • स्पोर्ट्स स्टार: विराट की टीम को मजबूती, इस स्टार बल्लेबाज की हुई वापसी। पढ़ें...
  • बॉलीवुड मसाला: जिन्होंने शो छोड़ा कपिल ने उन्हें कहा शुक्रिया, देखें EMOTIONAL VIDEO।...
  • मौसम दिनभरः दिल्ली-एनसीआर में आज रहेगी गर्मी। लखनऊ में छाए रहेंगे बादल। पटना,...
  • ईपेपर हिन्दुस्तानः आज का अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें
  • आपका राशिफलः कन्या राशि वालों को परिवार का सहयोग मिलेगा, नौकरी में तरक्की के बन...
  • सक्सेस मंत्र: काम को बोझ समझकर नहीं बल्कि पूरे मन और आनंद से करें
  • MCD चुनाव 2017: थोड़ी देर में शुरू होगा मतदान, 56 हजार सुरक्षाकर्मी करेंगे निगरानी
  • MIvDD : मुंबई ने दिल्ली को 14 रन से हराया

मौसम ने क्या गुनाह किया?

जयंती रंगनाथन First Published:19-04-2017 12:33:54 AMLast Updated:19-04-2017 12:33:54 AM

वैसे तो बारहों महीने अलग-अलग मौसमों की खुमारियों में जीते हैं, पर जब जो मौसम आता है, उसका रस लेना नहीं जानते। गर्मियों में हम सर्दियों को बेहतर बताते हैं और सर्दियों में गर्मियों को याद करते हैं। क्यों न इस सोच को बदला जाए...
गर्मियां जल्दी आ गईं और भीषण पड़ने भी लगीं। अपने आसपास सुबह से शाम तक लोगों को यह कहते हुए सुनना, इतनी गर्मी में कैसे जिएंगे, इससे तो अच्छा होता सर्दियां ठहर कर जातीं, उफ पसीना, डिहाइड्रेशन, बाहर जाना मुहाल, कैसे बीतेंगे ये दिन, अजीब लगता है। पिछले साल भी गर्मियां आई थीं और जितने दिन उसके रहने का समय है, उतने दिन रही। हर साल आती है, तो फिर हम इस मौसम को जीने के बजाय साल के दूसरे मौसमों में क्यों गुम रहते हैं?

द ग्लास केसल की लेखिका जेनेट वाल्स कहती हैं, ‘गर्मियों का एक फायदा तो यह होता है कि आपको पूरा दिन लिखने के लिए रोशनी की कमी नहीं रहती।’
इस बात को ओशो ने भी रेखांकित करते हुए कहा था-‘हमारे पास जिस समय जो चीज है, उसे पाने की कोशिश कीजिए। यह आपको आशावादी बनाएगा। आज में अपने आपको देखना, आज जो हमें दे रहा है उसके अनुसार जीना हमारी ताकत है, कमजोरी नहीं।’

बढ़ते तापमान और चिपचिपे मौसम में शिकायतों का अंबार लगाने के बजाय यह देखिए कि यह मौसम फलों के राजा आम का भी मौसम है। इस मौसम में ठंडे पानी से नहाने में जैसा अनुभव होता है, दूसरे किसी मौसम में नहीं होता। गर्मियां अपने साथ छुट्टियां भी लाती हैं। अमेरिका की बच्चों और किशोरों की लोकप्रिय लेखिका जैनी हैन ने एक किताब लिखी है, ‘द समर आई टन्र्ड प्रेटी।’ उन्हें लगता है कि गर्मी के मौसम में कोई जादुई बात है। आप अपने पुराने स्किन को तज कर एक नया रूप धरते हैं। ठंड में अवसाद है, बरसात में करुणा है, गर्मी में उल्लास है। पूरे चमकते सूरज का उल्लास।

हमारे यहां भी इसी मौसम में लोग छुट्टियां मनाने अपने गांव-घर की तरफ लौटते हैं, पहाड़ों में जाते हैं, नई बातें सीखते हैं, नए-पुराने लोगों से मिलते हैं। बचपन की गर्मी की छुट्टियों में सितारों भरी रातें और दादी-नानी की कहानियां हमारी प्रिय यादों में से होती हैं। पसीने से तर-बतर, भागते-दौड़ते बर्फ के गोले का स्वाद भी भूलने वाला नहीं होता।

रूस के नाटककार और लेखक चेखव ने तो यहां तक कहा था कि खुश होने का कोई मौसम नहीं होता। आप जब खुश होते हैं तो यह नहीं देखते कि यह कौन सा मौसम है। इस मौसम का बेपरवाह आलसपन उन्हें रचनात्मक बनाता था।

ठंडक दिमाग में है
- गर्मियों को कोसने के बजाय ऐसा कुछ करें, जिससे आपको सुकून मिले। गर्मियों में अपना खानपान बदलें। दही के बजाय मसाला छाछ या लस्सी पिएं। नीबू की शिकंजी, आम का पना, बेल का शर्बत, जलजीरा स्वाद के साथ आपको शीतलता भी देगा।
- गर्मियों की सुबह और रातों का सोने के बजाय व्यायाम, स्विमिंग और दूसरे शौकों को पूरा करने के लिए करें। दिन भर चुस्त रहेंगे।
- आप अगर ऐसा कोई काम करना चाहते हैं, जिसका रिश्ता सूरज की रोशनी से है, बड़ी, पापड़ बनाने के अलावा, तो इस मौसम का फायदा उठाएं। मन में यह बात कतई ना लाएं कि आप यह खास काम इसलिए नहीं कर पा रहे कि बेहद गर्मी है।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: month season winter
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
संबंधित ख़बरें