रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 10:39 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू मनोहर लाल खट्टर आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, मोदी होंगे शामिल राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में
ये क्या...क्लर्क से भी कम है मोदी की आमदनी!
नई दिल्ली/अहमदाबाद, लाइव हिन्दुस्तान/एजेंसी First Published:01-12-12 10:02 AMLast Updated:01-12-12 05:29 PM
Image Loading

नरेंद्र मोदी की हर महीने की कमाई सुनकर आप हैरत में पड़ सकते हैं। गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने नामांकन के दौरान जो शपथ पत्र भरा है, उसके मुताबिक उनकी सैलरी सरकारी क्लर्क और चपरासी से भी कम है।

मोदी की 2011-12 की कमाई 1 लाख 50 हजार 630 रुपये है। मतलब मोदी की हर महीने की सैलरी 12 हजार 553 रुपये हुई। यह मंत्रियों के 66 हजार मंथली सैलरी का पांचवां हिस्सा है। एक विधायक को हर महीने करीब 56 हजार रुपये मिलते हैं।

इसके साथ ही उन्हें हाउस के साथ दूसरी सुविधाएं भी मिलती हैं। मंत्रियों को तो अलग से ट्रैवेल और महंगाई अलाउंस भी मिलते हैं। दिलचस्प यह है कि मोदी ने 2007 के गुजरात विधानसभा चुनाव में शपथ पत्र भरते वक्त अपने वार्षिक आय का उल्लेख नहीं किया था। वहीं मोदी ने इस बार अपनी अचल संपत्ति के बारे में भी बताया है।

मोदी की एकमात्र प्रॉपर्टी गांधीनगर में है। 330 स्कॉवायर मीटर में मोदी का एक छोटा सा घर है। इसे भी मोदी ने 2002 में राज्य सरकार की तरफ से भारी रियायत पर खरीदा था। इस प्रॉपर्टी की कीमत उन्होंने 2007 के चुनाव में शपथ पत्र भरते वक्त 30 लाख बताया था। इस बार उन्होंने एक करोड़ बताया है।

नरेंद्र मोदी के पास 45 ग्राम की चार गोल्ड रिंग हैं। रिंग की कीमत 1 लाख 23 हजार 777 रुपये है। 2007 में इनके पास तीन रिंग थी, जिसकी कीमत 50 हजार रुपये थी। 2007 के मुकाबले मोदी का बैंक बैंलेंस बढ़ा है।

2007 में मोदी के अकाउंट में 8 लाख 55 हजार 651 रुपये थे, जो कि 2012 में बढ़कर 27 लाख 24 हजार 409 रुपए हो गए। मोदी ने अपने इनवेस्टमेंट की भी जानकारी दी है। इन्होंने 2007 में 3 लाख 39 हजार 575 रुपए नैशनल सेविंग सर्टिफिकेट में इनवेस्ट किया था, जो 2012 में 4 लाख 917 रुपये हो गया है।

नरेंद्र मोदी ने अपना पेशा सोशल सर्विस बताया है। विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन के दौरान मोदी द्वारा दिए गए हलफनामे में यह बात सामने आयी है। उन्होंने आज यहां मनिनगर निर्वाचन क्षेत्र के लिए नामांकन पत्र भरा।

वर्ष 2007 में मुख्यमंत्री के पास 40 लाख रुपये मूल्य की संपत्ति थी। उस समय उनकी संपत्ति में गांधीनगर सेक्टर एक में एक भूखंड शामिल था, जिसकी कीमत 30 लाख थी। यह भूखंड 1,30,488 रुपए में खरीदा गया था।

हलफनामे के अनुसार उस भूखंड का बाजार मूल्य अब एक करोड़ हो गया है। इस पर 2,47,208 रुपये का विकास कार्य कराया गया है। मोदी की अन्य संपत्तियों में बैंक जमा, सोने की अंगूठियां, एनएससी आदि हैं, जिनकी कीमत 33,42,842 रुपए हैं।
 
 
 
टिप्पणियाँ