गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 20:42 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं कालेधन मामले में सभी दोषियों की खबर लेगा एसआईटी: शाह एनसीपी के समर्थन देने पर शिवसेना ने उठाये सवाल 'कम उम्र के लोगों की इबोला से कम मौतें'  श्रीलंका में भूस्खलन में 100 से अधिक लोग मरे स्वामी के खिलाफ मानहानि मामले की सुनवाई पर रोक मायाराम को अल्पसंख्यक मंत्रालय में भेजा गया
इंडिया गेट पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने दिया जाए: शीला
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-12 02:16 PM
Image Loading

बताया जाता है कि दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिन्दे से कहा है कि सामूहिक बलात्कार की शिकार 23 वर्षीय छात्रा की मौत के मद्देनजर उसकी याद में इंडिया गेट और उसके आसपास शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने से प्रतिबंध हटाया जाए।
   
प्रदर्शन की आशंका से पुलिस ने इंडिया गेट और रायसीना हिल की ओर जाने वाले सभी रास्ते बंद कर दिये हैं। पूरे राजपथ पर बैरियर लगाये गये हैं। राजपथ ही इंडिया गेट को रायसीना हिल से जोड़ता है।
   
उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री महसूस करती हैं कि इंडिया गेट और उसके आसपास शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर कोई प्रतिबंध नहीं होना चाहिए। मुख्यमंत्री के नजरिये से गृह मंत्री को अवगत करा दिया गया है।
   
पिछले सप्ताह रायसीना हिल और इंडिया गेट के आसपास हो रहा प्रदर्शन उग्र हो उठा था, जिसके बाद पुलिस को बल प्रयोग कर इलाके को खाली कराना पड़ा था।
   
बलात्कार की शिकार युवती ने सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में तडके अंतिम सांस ली। घटना के बाद उसका इलाज दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में चल रहा था, लेकिन हालत बिगड़ने पर उसे सिंगापुर ले जाया गया था।
   
प्रदर्शनकारियों को इंडिया गेट या रायसीना हिल पहुंचने से रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने एहतियातन मध्य दिल्ली के दस मेट्रो स्टेशन अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिये हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ