शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 08:29 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
जम्मू कश्मीर में 20 सीटों के लिए मतदान शुरूझारखंड: दुमका के बूथ नम्बर 114 में सुबह से मतदाताओं में उत्साह नजर आ रहा हैझारखंड: सारठ के पालाजोरी ब्लॉक में बूथ नंबर 172 पर इवीएम खराब, 15 मिनट देर से शुरू हुआ मतदानझारखंड: दुमका के 114 नंबर बूथ पर सुबह से लगी महिला वोटरों की लंबी कतारझारखंड: जामताड़ा के बूथ नंबर 203 पर सुबह 7 बजे से ही वोटरों की लंबी कतार लगीझारखंड : दुमका के बूथ नम्बर 207 में पहला वोट पड़ाझारखंड में 16 विधानसभा सीटो के लिए मतदान शुरू
किडनी प्रतिरोपण की शुरुआत करने वाले जोसेफ मरे का निधन
बोस्टन, एजेंसी First Published:27-11-12 02:28 PMLast Updated:27-11-12 03:28 PM
Image Loading

विश्व में सफलतापूर्वक पहली किडनी प्रतिरोपित करने वाले और अपने श्रेष्ठ काम के लिए नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाले डॉक्टर जोसेफ इ मरे का 93 साल की उम्र में निधन हो गया।

अस्पताल के प्रवक्ता टॉम लेंगफोर्ड ने बताया कि गुरुवार को मरे को उपनगरीय बोस्टन स्थित उनके आवास पर मस्तिष्काघात हुआ और सोमवार को ब्रिघम एवं महिला अस्पताल में उनका निधन हो गया। मरे के एक जैसे दिखने वाले जुड़वां बच्चों में पहली बार किडनी प्रतिरोपण का ऑपरेशन करने के बाद विश्व भर में हजारों लोगों में अंग प्रतिरोपण ऑपरेशन किया गया।

डॉक्टर ई डोन्नल थामस के साथ 1990 में फिजियोलॉजी या चिकित्सा के क्षेत्र में काम करने के लिए मरे को नोबेल पुरस्कार दिया गया था। थामस ने हड्डी मज्जा प्रतिरोपण के क्षेत्र के क्षेत्र में अमूल्य शोध किया था। नोबुल पुरस्कार जीतने के बाद मरे ने न्यूयॉर्क टाइम्स से कहा था कि अब तो किडनी प्रतिरोपण सामान्य काम लगता है, लेकिन पहला ऑपरेशन बेहद कठिन था।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड