मंगलवार, 30 जून, 2015 | 13:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    ट्विटर पर जॉन ने खोली 'वेलकम बैक' की रिलीज़ डेट, आप भी जानिए बांग्लादेशी अखबार ने उड़ाया टीम इंडिया का मजाक, भारतीय क्रिकेटरों को दिखाया आधा गंजा गांगुली ने टीम इंडिया में हरभजन की वापसी का किया स्वागत रोहित समय के पाबंद हैं, उनके साथ काम करना मुश्किल: शाहरूख खान तेंदुलकर ने अजिंक्य रहाणे को दीं शुभकामनाएं मुजफ्फरनगर के भुम्मा में धार्मिक स्थल में विस्फोट, एक घायल  यूपी के मऊ में सिलेंडर रिसाव से लगी आग, चार की मौत, चार झुलसे व्यापम घोटाला: मंत्री से लेकर संतरी तक, सबने दिया घोटाले को अंजाम महाराष्ट्र: पंकजा के बाद विनोद तावड़े के खिलाफ ठेके में अनियमितता के आरोप जापान: चलती हुई बुलेट ट्रेन में एक शख्स ने खुद को किया आग के हवाले
गनेम बने टैगोर शांति पुरस्कार जीतने वाले पहले अरब
दुबई, एजेंसी First Published:26-12-12 02:51 PM

भारतीय कविता का अरबी में अनुवाद करने के लिए जाने जाने वाले संयुक्त अरब अमीरात के एक कवि टैगोर शांति पुरस्कार जीतने वाले पहले अरब बन गए हैं।
    
यूएई की आधिकारिक समाचार एजेंसी वाम द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि शिहाब गानेम को कविता और इसके अनुवाद क्षेत्र में उनकी उपलब्धियों तथा टैगोर द्वारा अपनाए गए मानवता, प्रेम एवं शांति के मूल्यों के अनुरूप मानवीय समझ के विकास में योगदान के लिए यह पुरस्कार दिया गया है।
    
गनेम संयुक्त अरब अमीरात के अग्रणी कवि और भारतीय कविता का अरबी में अनुवाद करने वाले अग्रणी अनुवादक हैं। टैगोर शांति पुरस्कार हर दूसरे साल किसी एक व्यक्ति को दिया जाता है। पुरस्कार समारोह छह मई 2013 को कोलकाता में होगा।
    
गनेम एड़की यूनिवर्सिटी से जल संसाधन इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर हैं। उन्होंने 1963 में स्कॉटलैंड स्थित आबरडीन यूनिवर्सिटी से मेकानिकल और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में दोहरी उपाधि हासिल की थी।
    
टैगोर पुरस्कार नोबेल पुरस्कार विजेता रवींद्रनाथ टैगोर की 150वीं जयंती के अवसर पर भारत सरकार ने वैश्विक बंधुत्व के मूल्यों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू किया था।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड