बुधवार, 01 जुलाई, 2015 | 22:27 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अब मोबाइल फोन से डायल हो सकेगा लैंडलाइन नंबर गोद से गिरी बच्ची, बचाने के लिए मां भी चलती ट्रेन से कूदी बलात्कार मामलों में कोई समझौता नहीं, औरत का शरीर उसके लिए मंदिर के समान होता है: सुप्रीम कोर्ट अब यूपी पुलिस 'चुड़ैल' को ढूंढेगी, जानिए क्या है पूरा मामला  खुलासा: एक रुपया तैयार करने का खर्च एक रुपये 14 पैसे दार्जिलिंग: भूस्‍खलन के कारण 38 लोगों की मौत, पीएम ने जताया शोक, 2-2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान यूनान ने किया डिफॉल्ट, नहीं चुकाया अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष का कर्ज विकी‍पीडिया पर नेहरू को मुस्लिम बताये जाने पर भड़की कांग्रेस, पूछा अब क्या कार्रवाई करेगी मोदी सरकार PHOTO: जब मंत्रीजी ने पकड़ी लेडी डॉक्टर की कॉलर और बोले... ललित मोदी के ट्वीट पर बवाल, भाजपा नहीं करेगी वरुण गांधी का बचाव
दिल्ली सामूहिक बलात्कार पीड़िता की हालत बेहद नाजुक
सिंगापुर, एजेंसी First Published:27-12-12 08:27 PM
Image Loading

सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में भर्ती कराई गई दिल्ली सामूहिक बलात्कार की पीड़ित युवती की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। अस्पताल की ओर से भारतीय समयानुसार शाम साढ़े चार बजे जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया है कि इस मरीज की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। वह माउंट एलिजाबेथ अस्पताल के आईसीयू में है।

अस्पताल के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉक्टर केल्विन लोह ने कहा कि विभिन्न विभागों के विशेषज्ञों की टीम युवती का उपचार कर रही है और उसकी हालत को स्थिर करने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

यह बहु-अंग प्रत्यारोपण विशेषज्ञता वाला अस्पताल 1973 में स्थापित हुआ था। यह 373 बिस्तरों का अस्पताल है और एशिया के बेहतरीन अस्पतालों में शुमार किया जाता है। दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में अपने इलाज के दौरान अधिकतर समय वेंटिलेटर पर रखी गयी पीड़िता को आज सुबह एक एयर एंबुलेंस में यहां लाया गया। उसके साथ डॉक्टरों का एक दल और उसके परिवार के सदस्य भी थे।

सिंगापुर स्थित भारतीय उच्चायोग ने कहा था कि युवती को लेकर आया विमान चांगी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सुबह सात बजकर 30 मिनट पर: भारतीय समयानुसार सुबह पांच बजे: उतरा।

युवती को भारत से बाहर ले जाने का निर्णय भारत सरकार के सबसे ऊपरी स्तर पर लिया गया। सरकार ने घोषणा की थी कि वह युवती के इलाज पर होने वाला पूरा खर्च वहन करेगी। गत 16 दिसंबर को युवती के साथ एक चलती बस में सामूहिक बलात्कार किया गया, उसे बर्बरता से मारा-पीटा गया और बस से बाहर फेंक दिया गया। उसकी तीन बार सर्जरी की गयी, लेकिन उसकी हालत नाजुक बनी रही।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड