गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 22:13 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं कालेधन मामले में सभी दोषियों की खबर लेगा एसआईटी: शाह एनसीपी के समर्थन देने पर शिवसेना ने उठाये सवाल 'कम उम्र के लोगों की इबोला से कम मौतें'  स्वामी के खिलाफ मानहानि मामले की सुनवाई पर रोक
भारत को MFN का दर्जा देगा पाकिस्तान: गिलानी
इस्लामाबाद, एजेंसी First Published:03-04-12 02:25 PM
Image Loading

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने एशियाई देशों से आग्रह किया है कि उन्हें व्यापार और आर्थिक विकास में तेजी लाकर क्षेत्रीय सद्भाव और स्थिर विकास बनाए रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत को सबसे पसंदीदा राष्ट्र (एमएफएन) का दर्जा देने की दिशा में पाकिस्तान कदम उठा रहा है।

गिलानी ने चीन के बाओ में आयोजित बाओ फोरम को सम्बोधित करते हुए कहा कि यदि हम व्यापार, निवेश और आर्थिक विकास पर आधारित क्षेत्रीय सद्भाव स्थापित नहीं कर पाए, तो हमें डर है कि हम अतीत में उलझे रह जाएंगे। हम इस अतीत को तोड़कर बाहर आ सकते हैं।

गिलानी ने अन्य देशों के साथ आर्थिक रिश्तों को गहरा बनाने के लिए की गई पहलों का जिक्र किया और इस क्रम में चीन के साथ टैरिफ उदारीकरण, अफगानिस्तान के साथ नया पारगमन व्यापार समझौता, भारत के लिए एमएफएन, और गैस पाइपलाइन व संचार में क्षेत्रीय परियोजनाओं को गिनाया।

ज्ञात हो कि पहली मार्च को भारत ने पाकिस्तान के उस निर्णय का स्वागत किया था, जिसके तहत उसने भारत को सबसे पसंदीदा देश का दर्जा देने और सीमा के दोनों तरफ व्यापारिक सम्बंधों को सामान्य बनाने की घोषणा की थी।

गिलानी ने कहा कि 21वीं सदी एशिया की सदी है और उन्होंने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में एशिया की भूमिका तेजी के साथ परिवर्तित हुई है।

 

 
 
 
टिप्पणियाँ