मंगलवार, 28 जुलाई, 2015 | 08:59 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    पंजाब हमला केंद्र सरकार की खुफिया नाकामी का नतीजा: कांग्रेस गुरुदासपुर में हुए आतंकी हमले की राजनेताओं ने की ट्विटर पर निंदा आतंकवादी कहां से आए थे, अभी कहना मुश्किल है: पंजाब पुलिस केजरीवाल ने आडवाणी से मुलाकात की, कई मुद्दों पर की चर्चा पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम नहीं रहे, देश भर में शोक की लहर गुरदासपुर आतंकी हमले के बाद BCCI ने कहा, पाकिस्तान के साथ कोई क्रिकेट संबंध नहीं आरएमएल में आम नहीं 'खास' मरीजों का विशेष ध्यान रखने का आदेश  उप राज्यपाल ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल की नियुक्ति पर मुहर लगाई बिहार बंद: लालू सहित कई राजद नेता गिरफ्तार और रिहा किए गए  याकूब की फांसी का विरोध कर फंसे अभिनेता सलमान और सांसद ओवैसी, राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज
मोबाइल फोन आतंकवाद के नए हथियार: मलिक
इस्लामाबाद, एजेंसी First Published:05-01-2013 03:17:14 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री रहमान मलिक ने कहा है कि मोबाइल फोन अब आतंकवादियों के नए हथियार बन गए हैं, क्योंकि यहां अधिकांश बम विस्फोट मोबाल फोन के जरिए ही किए जा रहे हैं।

समाचार एजेंसी, एसोसिएटेड प्रेस ऑफ पाकिस्तान (एपीपी) की रपट के अनुसार, मलिक ने कहा कि मुहर्रम महीने के दौरान कई शहरों में मोबाइल फोन सेवाएं निलम्बित कर दी गई थीं, जिससे विस्फोटों को रोकने में मदद मिली थी।

मलिक ने कहा कि मोबाइल फोन आतंकवादियों के अब एक हथियार बन गए हैं, क्योंकि सभी विस्फोट उसी के जरिए किए जा रहे हैं। मलिक ने कहा कि मोबाइल फोन के अवैध सिम कार्ड की बिक्री पर प्रतिबंध के लिए विधेयक लाया जाना चाहिए।

आतंकवादी हमलों की खबरें प्रकाशित करने वाले साउथ एशिया टेररिज्म पोर्टल का कहना है कि 2012 में पाकिस्तान में बम विस्फोटों में 1,000 लोग मारे गए थे और 2,700 लोग घायल हुए थे।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड