रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 05:02 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
पाकिस्तानी संसदीय समिति ने प्राइम टाइम में भारतीय कार्यक्रमों पर रोक की मांग की
इस्लामाबाद, एजेंसी First Published:04-01-2013 03:40:45 PMLast Updated:04-01-2013 03:41:19 PM
Image Loading

पाकिस्तान की एक संसदीय समिति ने सरकार से प्राइम टाइम में सभी विदेशी भाषाओं के कार्यक्रमों पर रोक लगाने की मांग की है। इस कदम का लक्ष्य भारत और तुर्की जैसे देशों के लोकप्रिय कार्यक्रमों या सीरियल पर पाबंदी लगाने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है।

नेशनल असेंबली की सूचना एवं प्रसारण मामलों की स्थाई समिति ने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की सांसद बेलम हसनैन की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान यह सिफारिश की। समिति ने यह भी सिफारिश की है कि इस प्रस्तावित प्रतिबंध का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

पाकिस्तान के टेलीविजन कलाकार और निर्माता यहां के प्रमुख चैनलों पर तुर्की के सीरियल को उर्दू में डब करके प्रसारित किए जाने को लेकर खुलकर अपने गुस्से का इजहार करते रहे हैं। तुर्की के सीरियल इस्लामी नजरिए और मुस्लिम पात्रों वाले होने के कारण पाकिस्तान में खासे लोकप्रिय हो रहे हैं। इससे पहले यहां के कलाकारों ने भारतीय कार्यक्रमों के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग की थी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingगावस्कर ने पुजारा की तारीफों के पुल बांधे
अपनी अच्छी तकनीक और शांत चित के कारण चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर अपने पांव जमाने में माहिर हैं और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी इस युवा बल्लेबाज की आज जमकर तारीफ की जिन्होंने अपने नाबाद शतक से भारत को संकट से उबारा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!