मंगलवार, 07 जुलाई, 2015 | 12:25 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बिहार एमएलसी चुनाव: 10 बजे तक पूरे प्रदेश में 13 प्रतिशत मतदानमधुबनी में 11 बजे तक सिर्फ 16 प्रतिशत मतदान की खबर।एएमयू मेडिकल प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट आज >> बारिश के चलते अभी भी रुकी है केदारनाथ यात्रा >> कानपुर देहात के गजेनर इलाके में तीन की हत्या >> पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज कन्नौज में >> बनारस में विकास योजनाओं की जमीनी हकीकत देखने आज पहुंचेगी केंद्र के शीर्ष अफसरों की टीमविधानपरिषद चुनाव: वोटिंग के लिए मंत्री रमई राम और सांसद अनिल साहनी पहुंचे।दरौंदा में 10 बजे तक 325 में से 100 वोट पड चुके थे।सीवान में एमएलसी के लिए 10 बजे तक 12 प्रतिशत तक मतदान हो चुका है।सांसद ओम प्रकाश यादव और विधायक व्यास देव प्रसाद ने सीवान बूथ पर वोट डाला।बिहार में मानसून सक्रिय बारिश के आसारबिहार विधान परिषद की 24 सीटों के लिये मतदान शुरू
ठोस सबूत होने पर सईद के खिलाफ कार्रवाई करेगा पाक
इस्लामाबाद, एजेंसी First Published:01-12-12 03:50 PM
Image Loading

पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार ने शनिवार को कहा कि यदि भारत अदालत में ठोस सबूत मुहैया कराये, तो उनका देश मुंबई आतंकवादी हमले के कथित मुख्य साजिशकर्ता हाफिज सईद के खिलाफ कार्रवाई करेगा।
    
खार ने एक समाचार चैनल से कहा कि हाफिज सईद हिरासत में था और उसके खिलाफ सबूत अदालत में नहीं टिकेंगे। हम अभी भी यह कहते हैं कि हमें ऐसा कोई भी सबूत देखकर खुशी होगी जो उसके खिलाफ अदालत में टिके।
    
यह पूछे जाने पर कि यदि भारत सईद के खिलाफ सबूत मुहैया कराये तो पाकिस्तान उसके खिलाफ कार्रवाई करेगा, उन्होंने कहा, हां, निश्चित रूप से कार्रवाई होगी। वह पहले भी हिरासत में रहा है। उसके खिलाफ सबूत पर्याप्त नहीं था और उसे इसी कारण से हिरासत से रिहा किया गया।
    
नवम्बर 2008 में मुम्बई आतंकवादी हमले के बाद जमात उद दावा को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओर से लश्कर-ए-तैयबा का एक मुखौटा घोषित किये जाने के बाद उसके प्रमुख सईद को छह महीने से कम समय के लिए नजरबंद रखा गया था। उसे लाहौर उच्च न्यायालय के आदेश पर रिहा किया गया।
     
इसके बाद सईद को पाकिस्तान में होने वाली घटनाओं के लिए हिरासत में लिया गया लेकिन उसे फिर छोड़ दिया गया। अमेरिका ने हालांकि इस वर्ष की शुरुआत में सईद पर एक करोड़ डॉलर इनाम की पेशकश की, लेकिन सईद लाहौर में खुले तौर पर रहता है और वह श्रृंखलाबद्ध रैलियां आयोजित कर चुका है, जिसमें उसने अमेरिका और भारत के खिलाफ बोला है।
     
खार ने साक्षात्कार में कहा कि मुम्बई आतंकवादी हमले के बाद भारत के साथ माहौल बहुत खराब हो गया है। उन्होंने स्वीकार करते हुए कहा, हम मुश्किल दौर से निकल आये हैं।
     
उन्होंने कहा कि यद्यपि पाकिस्तान सरकार ने उस माहौल में बहुत व्यापक तरीके से सुधार किया। हमने विश्वास बनाने का प्रयास किया। हमने व्यापार सामान्य बनाने के रास्ते पर बढ़ने का नीतिगत निर्णय किया जो गत 40 वर्ष में किसी ने नहीं किया था।
      
खार ने कहा कि व्यापार सामान्य बनाने का कदम बहुत अच्छा विश्वास बहाली कदम रहा है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड