शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 10:11 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    वर्जिन का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत केंद्र सरकार के सचिवों से आज चाय पर चर्चा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा आज से शुरू करेगी विशेष सदस्यता अभियान आयोग कर सकता है देह व्यापार को कानूनी बनाने की सिफारिश भाजपा की अपनी पहली सरकार के समारोह में दर्शक रही शिवसेना बेटी ने फडणवीस से कहा, ऑल द बेस्ट बाबा झारखंड में हेमंत सरकार से समर्थन वापसी की तैयारी में कांग्रेस अब एटीएम से महीने में पांच लेन-देन के बाद लगेगा शुल्क  पेट्रोल 2.41 रुपये, डीजल 2.25 रुपये सस्ता फड़णवीस को मोदी ने चढ़ाईं सत्ता की सीढ़ियां
पाकिस्तान में 2013 के आम चुनावों में देरी संभव
लाहौर, एजेंसी First Published:23-12-12 07:10 PMLast Updated:23-12-12 07:53 PM

पाकिस्तान में 2013 में होने वाले आम चुनाव समय पर नहीं हो पायेंगे। खबर है कि चुनावों में कुछ महीनों यहां तक की सालों की देरी हो सकती है।

पंजाब पुलिस की विशेष इकाई ने यह बात कही है। कयास लगाये जा रहे हैं कि कुछ सालों के लिये कार्यवाहक शासन स्थापित किया जायेगा। पंजाब पुलिस की विशेष शाखा ने एक रिपोर्ट के हवाले से चुनावों में देरी की बात बतायी। इस रिपोर्ट को मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ को सौंप दिया गया है।

पाकिस्तान में अगले साल की शुरुआत में प्रांतीय और राष्ट्रीय सभाओं के लिये चुनाव होने हैं।
पुलिस की इस रिपोर्ट में बताया गया है कि आम चुनाव समय पर नहीं होंगे और कुछ सालों के लिये कार्यवाहक शासन स्थापित किया जायेगा।

इस रिपोर्ट के बाद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के भाई और प्रांत के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ ने कहा कि यदि चुनावों में देरी होती है तो गृहयुद्ध की नौबत आ सकती है। शरीफ की पार्टी पी एम एल- एन न्यायपालिका द्वारा लिये गये कुछ फैसलों से अपने खिलाफ माहौल को लेकर आशंकित है। 
अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि पार्टी को डर है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले, बलूचिस्तान में सरकार की विफलता और कराची में मौजूदा कानून व्यवस्था लोकतांत्रिक ढांचे के विरुद्ध जा सकती है।

पी एम एल- एन के अध्यक्ष नवाज शरीफ ने कहा कि 2013 के चुनावों को टाला नहीं जाना चाहिये क्योंकि लोग अपने वोटों से देश में बदालाव लाना चाहते हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ