मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 09:24 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
भारतीय दंपत्ति के खिलाफ बच्चों के साथ दुर्व्यवहार का आरोप
ओस्लो-नयी दिल्ली, एजेंसी First Published:01-12-2012 07:36:58 PMLast Updated:01-12-2012 07:48:45 PM
Image Loading

नॉर्वे में बाल शोषण के कथित मामले के तहत गिरफ्तार भारतीय दंपति के मामले में नया मोड़ ले लिया है। अब अभियोजन पक्ष ने दंपत्ति पर उनके बच्चों के साथ निरंतर बुरा बर्ताव करने का आरोप लगाते हुए उन्हें कम से कम 15 महीने की कैद की सजा देने की मांग की है।

ओस्लो पुलिस विभाग की ओर से जारी बयान के अनुसार डर था कि कार्रवाई से बचने के लिए सॉफ्टवेयर पेशेवर चंद्रशेखर वल्लभानेणि और भारतीय दूतावास में कार्यरत उनकी पत्नी अनुपमा भारत वापस भाग जाएंगे।

पुलिस ने कहा कि इस मामले पर फैसला तीन दिसंबर को ओस्लो जिला अदालत में होगा। चंद्रशेखर के भतीजे वी सैलेन्द्र का कहना है कि दंपति के सात वर्षीय बेटे ने स्कूल बस में पैंट में पेशाब कर दिया था। इस बारे में उसके पिता को सूचित करने पर उन्होंने बच्चों को धमकाया कि अगर वह दोबारा ऐसा करेगा तो उसे भारत वापस भेज दिया जाएगा।

नई दिल्ली में आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक विदेश मंत्रालय इस मामले पर पिछले आठ माह से काम कर रहा है। दंपत्ति के बच्चों को अधिकारी पहले भी ले गए थे लेकिन कोशिशों बाद मई में उन्हें उनका बच्चा वापस मिला था। दंपत्ति के खिलाफ लगाए गए आरोप आपराधिक प्रवृति के हैं।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingद्रविड़ ने कहा, मेरी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं है: पुजारा
लगभग दो साल बाद अपना पहला टेस्ट शतक जमाने के बाद राहत महसूस कर रहे भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने आज भारत ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ का आभार व्यक्त किया जिन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं थी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

कहां रखें पैसे
पत्नी: मैं जहां भी पैसा रखती हूं हमारा बेटा वहां से चुरा लेता है। मेरी समझ नहीं आ रहा कि पैसे कहां रखूं?
पति: पैसे उसकी किताबों में रख दो, वो उन्हें कभी नहीं छूता।