गुरुवार, 27 नवम्बर, 2014 | 07:04 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
भारतीय दंपत्ति के खिलाफ बच्चों के साथ दुर्व्यवहार का आरोप
ओस्लो-नयी दिल्ली, एजेंसी First Published:01-12-12 07:36 PMLast Updated:01-12-12 07:48 PM
Image Loading

नॉर्वे में बाल शोषण के कथित मामले के तहत गिरफ्तार भारतीय दंपति के मामले में नया मोड़ ले लिया है। अब अभियोजन पक्ष ने दंपत्ति पर उनके बच्चों के साथ निरंतर बुरा बर्ताव करने का आरोप लगाते हुए उन्हें कम से कम 15 महीने की कैद की सजा देने की मांग की है।

ओस्लो पुलिस विभाग की ओर से जारी बयान के अनुसार डर था कि कार्रवाई से बचने के लिए सॉफ्टवेयर पेशेवर चंद्रशेखर वल्लभानेणि और भारतीय दूतावास में कार्यरत उनकी पत्नी अनुपमा भारत वापस भाग जाएंगे।

पुलिस ने कहा कि इस मामले पर फैसला तीन दिसंबर को ओस्लो जिला अदालत में होगा। चंद्रशेखर के भतीजे वी सैलेन्द्र का कहना है कि दंपति के सात वर्षीय बेटे ने स्कूल बस में पैंट में पेशाब कर दिया था। इस बारे में उसके पिता को सूचित करने पर उन्होंने बच्चों को धमकाया कि अगर वह दोबारा ऐसा करेगा तो उसे भारत वापस भेज दिया जाएगा।

नई दिल्ली में आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक विदेश मंत्रालय इस मामले पर पिछले आठ माह से काम कर रहा है। दंपत्ति के बच्चों को अधिकारी पहले भी ले गए थे लेकिन कोशिशों बाद मई में उन्हें उनका बच्चा वापस मिला था। दंपत्ति के खिलाफ लगाए गए आरोप आपराधिक प्रवृति के हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ