सोमवार, 31 अगस्त, 2015 | 12:12 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
उत्तर प्रदेश: अमरोहा में डेंगू से महिला सभासद की मौत, मेरठ में चल रहा था इलाज, हसनपुर नगर पालिका में वार्ड एक की सभासद थी।उत्तर प्रदेश: मुरादाबाद में चाइनीज मांझे ने एक और युवक की गर्दन काटी, हालत गंभीर, रक्षाबंधन के दिन बारह साल के बच्चे की जिंदगी लील गया चाइनीज मांझा, अब तक दो दर्जन से ज्यादा लोग हो चुके हैं घायल।उच्चतम न्यायालय ने जैन समुदाय से जुड़े संगठनों की याचिकाओं पर संथारा को गैरकानूनी घोषित करने वाले राजस्थान उच्च न्यायालय के फैसले पर रोक लगायी।
21 दिसम्बर को खत्म क्यों नहीं हुई दुनिया?
वाशिंगटन, एजेंसी First Published:23-12-2012 08:02:55 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

माया कैलेंडर के अनुसार इस साल 21 दिसम्बर को दुनिया खत्म हो जानी थी लेकिन ऐसा हुआ नहीं। इस बारे में जानकार का कहना है कि वास्तव में इस दिन का एक खास महत्व था। लेकिन उस तरह नहीं, जैसा कि प्रचारित किया गया।

माया कैलेंडर के जानकार और यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास में प्रोफेसर डेविड स्टुअर्ट का कहना है, ''माया कैलेंडर ने वास्तव में दुनिया खत्म हो जाने की कभी भविष्यवाणी नहीं की। माया कैलेंडर के अनुसार, वह तिथि एक महत्वपूर्ण चक्र पूरा होने को दर्शाता था।''

स्टुअर्ट ने इस साल की शुरुआत में ग्वाटेमाला के जंगलों में ला कोरोना के अवशेषों का अध्ययन किया था, जहां उन्होंने खुदाई से कई ऐसे पत्थर निकाले, जिन पर कुछ न कुछ खुदा था। उन्होंने 56 खुदे हुए पत्थरों का अध्ययन किया और राजनीतिक इतिहास के 2०० साल को समझा।

स्टुअर्ट के अनुसार, 21 दिसम्बर को लेकर गलत अवधारणाओं के बावजूद यह समय खत्म हो जाने की भविष्यवाणी नहीं करता। उन्होंने कहा, ''पत्थरों पर खुदे हुए शब्द सातवीं शताब्दी के इतिहस तथा राजनीति पर बल देते हैं।''

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingकोलंबो टेस्ट: भारत को 132 रनों की बढ़त
इशांत शर्मा ( 54 रन पर पांच विकेट) की घातक गेंदबाजी और इससे पहले ओपनर चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 145) रन के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने यहां तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपना शिकंजा कसते हुये मेजबान श्रीलंका के खिलाफ 111 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

सीसीटीवी कैमरों का जमाना है...
पिता: एक समय था, जब मैं 10 रुपए में किराना, दूध, सब्जी और नाश्ता ले आता था..
बेटा: अब संभव नहीं है, पापा अब वहां सीसीटीवी कैमरे लगे होते हैं।