बुधवार, 29 जुलाई, 2015 | 06:06 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    भारत को लौटाया जाए कोहिनूर हीरा: कीथ वाज  याकूब की फांसी की सजा बदलने के लिए महाराष्ट्र के मुस्लिम विधायकों ने राष्ट्रपति से की अपील हो जाइए तैयार अब स्पाइसजेट सिर्फ 999 रुपये में कराएगी हवाई सफर कलाम के सम्मान में संसद दो दिनों के लिए स्थगित, मंत्रिमंडल ने शोक जताया बढ़ चला बिहार कार्यक्रम को हाईकोर्ट का झटका, ऑडियो-विडियो प्रदर्शन पर रोक CCTV में कैद हुए गुरदासपुर हमले के गुनहगार, AK-47 लिए सड़कों पर घूमते दिखे आतंकी साड़ी, शॉल, आम की कूटनीति बंद कर पाकिस्तान के खिलाफ इंदिरा जैसा साहस दिखाये PM मोदी 29 जुलाई से बाजार में आएगा माइक्रोसॉफ्ट ओएस विंडोज-10, करें डाउनलोड पीएम मोदी ने दी कलाम को श्रद्धांजलि, बोले- भारत ने खोया अपना रत्न कलाम का अंतिम संस्कार रामेश्वरम में होगा, पीएम मोदी सहित कई हस्तियों के पहुंचने की संभावना
पाक में 26/11 हमले के आरोपी की जमानत याचिका खारिज
इस्लामाबाद, एजेंसी First Published:27-11-2012 05:32:21 PMLast Updated:27-11-2012 05:33:17 PM
Image Loading

पाकिस्तान की एक अदालत ने चार साल पहले मुंबई हमलों की साजिश रचने और साजो-सामान मुहैया कराने के सात आरोपी में से एक जमील अहमद की जमानत याचिका खारिज कर दी है। लाहौर उच्च न्यायालय की दो न्यायाधीशों की पीठ ने अहमद के वकील और संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के वकील की दलीलें सुनने के बाद उसकी याचिका खारिज कर दी।

इससे पहले, अदालत ने अहमद की जमानत याचिका पर जवाब के लिए एफआईए को नोटिस जारी किया था। 2009 में एफआईए द्वारा दायर आरोपपत्र के मुताबिक अहमद और अन्य आरोपी मोहम्मद युनूस अंजुम ने मुंबई हमलों की तैयारी के लिए लश्करे तैयबा सदस्य शाहिद जमील रियाज को 39.8 लाख रुपये मुहैया कराया था। दोनों ने पंजाब और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चार बैंकों से इस रकम को रियाज के कराची के दो बैंक खातों में भेजा था।
   
लश्करे तैयबा के संचालन मामलों के कमांडर जकीउर रहमान लखवी सहित सात पाकिस्तानी संदिग्ध अभी रावलपिंडी के अडियाला जेल में बंद है। अहमद के वकील का दावा है कि उसका मुवक्किल सऊदी अरब में एक निजी कारोबार चला रहा था और आतंकी हमलों में संलिप्त नहीं था।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingप्रतिबंध हटाने के लिए बीसीसीआई से संपर्क करूंगा: श्रीसंत
जब वह तिहाड़ जेल में था तो वह आत्महत्या के बारे में सोच रहा था लेकिन तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को अब उम्मीद बंध गई है कि वह वापसी कर सकते हैं और खुद पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिये वह बीसीसीआई से संपर्क करेंगे।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड