शुक्रवार, 28 नवम्बर, 2014 | 17:36 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
हल्द्वानी में मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव
वॉलमार्ट ने मैक्सिको में स्टोर खोलने के लिए दी रिश्वत
न्यूयार्क, एजेंसी First Published:19-12-12 02:50 PM
Image Loading

भारत में बहुब्रांड खुदरा बाजार को खुलवाने के लिए अमेरिकी सांसदों की लॉबिंग पर करोड़ों डॉलर का खर्च करने का मामला प्रकाशित होने के बाद विवाद में घिरी कंपनी वॉलमार्ट को लेकर नई विवादास्पद बातें सामने आई हैं और उस पर जांच का घेरा और कस रहा है।
  
अमेरिकी मीडिया की ताजा रपटों में कहा गया है कि इस बहुराष्ट्रीय अमेरिकी निगम ने मैक्सिको में  अपनी दुकाने शुरू करने के लिए वहां के अधिकारियों की जेबें गरम कीं।
   
न्यूयार्क टाइम्स ने खुद जांच पड़ताल के बाद रपट दी है कि मैक्सिको में वालमार्ट की सहायक कंपनी वॉलमार्ट डी मेक्सिको वहां भ्रष्ट संस्कृति की शिकार थी और न हीं उसने केवल सामान्य काम को शीघ्रता से कराने के लिए रिश्वत का सहारा लिया। बल्कि, वॉलमार्ट डी मैक्सिको ने दब कर और बड़ी चालबाजी से भ्रष्टाचार फैलाया। कंपनी ने वहां कानूनी तौर पर प्रतिबंधित कामों को करवाने के लिए भारी रिश्वत दी।
 
खबर में कहा गया कि वॉलमार्ट की मेक्सिको इकाई ने वहां सुरक्षित भवन निमाण के अधिनियमों में बदलाव करवाने के लिए लोकतांत्रिक शासन पद्धति को, जिसमें जनमत, खुली बहस, पारदर्शी प्रक्रिया अपनायी जाती है, धता बताने के लिए रिश्वत का सहरा लिया। अखबार की रपट के मुताबिक कंपनी ने अपने प्रतिस्पर्धियों को बाजार से बाहर रखने के लिए भी रिश्वत दी।
   
यह खबर उस वक्त आई है जबकि भारत में प्रवेश के लिए वॉलमार्ट के लॉबिंग पर खर्च को लेकर शोर मच रहा है। इधर अमेरिकी कानून विभाग और प्रतिभूति एवं विनिमय आयोग (सेक) भी विदेश में कारोबार के लिए भ्रष्ट तरीके अपनाने पर अंकुश के लिए बने अमेरिकी कानूनों के तहत वॉलमार्ट कंपनी की जांच कर रहा है।

इस कानून के तहत अमेरिकी कंपनियों या इसकी सहयोगी इकाइयों को विदेशी अधिकारियों को रिश्वत देने पर पाबंदी है।

 
 
 
टिप्पणियाँ